दिल्ली कांग्रेस के संभावित अध्यक्ष कीर्ति आजाद के ट्वीट से गरमाई राजनीति, AK-मनोज रहे निशाने पर

नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। Delhi Assembly Election 2020 : कांग्रेस नेता एवं प्रदेश कांग्रेस के संभावित अध्यक्ष कीर्ति आजाद ने सोमवार को एक ट्वीट कर आम आदमी पार्टी और भाजपा पर हमला बोला। उन्होंने सीधे- सीधे इन दोनों विरोधी दलों पर पूर्वांचल के मतदाताओं को ठगने का आरोप लगाया। ऐसा करके कीर्ति आजाद ने आलाकमान की ओर से अध्यक्ष पद पर अपने नाम की औपचारिक घोषणा से पहले ही सोशल मीडिया के जरिये दिल्ली की राजनीति में प्रवेश कर लिया। उनके इस ट्वीट की चर्चा प्रदेश कांग्रेस में ही नहीं, सियासी गलियारों में भी दिनभर रही।

उन्होंने इसमें लिखा कि दिल्ली के बयानवीर नेता जनता की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। मनोज तिवारी पूर्वांचल के लोगों को घुसपैठिया अपराधी एवं दोषी मानते हैं जबकि अरविंद केजरीवाल कहते हैं कि पूर्वांचल के लोग 500 रुपये लेकर आते हैं और लाखों का इलाज करवाते हैं। दोनों को जनता सबक सिखाएगी। कीर्ति की इस टिप्पणी को दिल्ली की राजनीति में उनके सक्रिय होने की इच्छा से जोड़कर भी देखा जा रहा है।

कीर्ति का कहना है कि पूर्वांचल के नाम पर भाजपा और आप दोनों ने ही दिल्लीवासियों को ठगा है। दोनों दल वोट लेने के नाम पर पूर्वाचल का गुणगान करते हैं और बाद में वहां के लोगों को अपमानित करने से भी पीछे नहीं रहते। कीर्ति ने कहा कि पूर्वांचल के लोग हर छोटे बड़े पद पर काबिज हैं। लेकिन उन्हें जितना सम्मान मिलना चाहिए, मिल नहीं रहा है। राजनीतिक दल अपनी सोच बदलें और जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए ही बयान दें, उनका सम्मान करें।

उन्होंने यह भी कहा कि जिस प्रकार पूर्वांचली लोगों को लेकर दोनों पार्टी के नेताओं ने बयान दिया है, उससे उनकी सोच ही जाहिर होती है। कांग्रेस की सोच सभी के लिए हमेशा एक ही रही है। वैसे भी दिल्ली देश की राजधानी होने के कारण सभी की है और यहां पर उनका भी उतना ही हक है जितना बाकी लोगों का। पिछले दिनों कीर्ति को प्रदेश कांग्रेस का नया अध्यक्ष नियुक्त किए जाने की खबर आ रही थी, लेकिन पार्टी की अंदरूनी कलह के चलते इसकी औपचारिक घोषणा को टाल दिया गया था। इस बीच कीर्ति के खिलाफ पार्टी के भीतर से ही आवाज उठने लगी और उन्हें बाहरी बताकर विरोध शुरू कर दिया गया। पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिख कर भी नाराजगी जाहिर की गई। हालांकि सूत्रों की मानें तो कीर्ति सोनिया गांधी की पसंद हैं।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.