दिल्ली में विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं, विकास पर सियासत को मजबूर भाजपाः केजरीवाल

दिल्ली में विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं, विकास पर सियासत को मजबूर भाजपाः केजरीवाल
Publish Date:Wed, 23 Oct 2019 07:50 AM (IST) Author: Mangal Yadav

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज दिल्ली में विपक्षी पार्टियां भी विकास के नाम पर राजनीति करने को मजबूर हो गई हैं। वह भी बिजली, पानी और विकास की बात कर रही हैं। यह बदलाव आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार की वजह से है। उनकी पार्टी ने राजनीति को विकास पर केंद्रित किया है।

उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद पांच साल में अन्य पार्टी के लोग इतने घोटाले कर लेते हैं कि जनता के बीच जाने लायक नहीं बचते। 70 साल में इसलिए किसी ने स्कूल और अस्पताल ठीक करने की नहीं सोचा। सिर्फ आप आज चौराहे पर खड़ा होकर पूछ रही है, बोलो केजरीवाल ने कुछ काम किया या नहीं। वह सदर बाजार में आयोजित चांदनी चौक लोकसभा का कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

सीएम ने कहा कि आज दिल्ली के 2 करोड़ लोग मेरे परिवार का हिस्सा हैं। परिवार की फिक्र रहती है इसलिए दिल्ली में डेंगू पर नियंत्रण पाया जा सका। अब तक 650 मामले ही सामने आए हैं। कोई मौत नहीं हुई। जबकि पिछले साल साढ़े 15 हजार मामले सामने आए थे। हमने प्रदूषण भी कम किया है, जबकि अन्य शहरों में प्रदूषण बढ़ रहा।

उन्होंने कहा कि 14 लाख लोगों का बिजली बिल इस माह शून्य आया। अब अगले माह 33 लाख के बिल शून्य हो जाएंगे। दिल्ली के दो करोड़ लोग आप के कार्यकर्ता बन गए हैं। जब तक मैं जिंदा हूं सरकार कोई भी ऐसा काम नहीं करेगी, जिससे आपका सिर नीचे हो। वहीं, आप के संयोजक गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली में इतने काम हुए कि कोई भी एक बार में गिना नहीं सकता। अर¨वद केजरीवाल के नेतृत्व में ऐसा काम हुआ कि आज रिक्शा चलाने वाले से लेकर जहाज चलाने वाले तक उनके काम की चर्चा करता है।

भाजपा नेता गंदी राजनीति कर रहे : केजरीवाल

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा है आप सरकार जहां दिल्ली के विकास की बात कर रही है। वहीं भाजपा अब गंदी राजनीति पर उतर आई है। उन्होंने यह बात मनोज तिवारी के उस बयान पर कही है, जिसमें तिवारी ने मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री और मंत्रियों व उनके परिवार के उपचार पर किए गए खर्च पर सवाल उठाया था। तिवारी ने कहा था कि आम आदमी पार्टी सरकार के मंत्री खुद का इलाज तो बाहर कराते हैं और जनता के लिए मोहल्ला क्लीनिक बनाए हैं।

केंद्र सीधे पैसा दे तो हमें कोई दिक्कत नहीं-केजरीवाल

केंद्र के नगर निगमों को कूड़ा साफ करने के लिए सीधे 800 करोड़ रुपये देने के तिवारी के बयान पर केजरीवाल ने कहा कि नियमानुसार दिल्ली सरकार के माध्यम से ही निगमों को पैसा दिया जाता है। फिर भी यदि केंद्र सीधे पैसा दे रहा है तो अच्छी बात है। हालांकि, इस संबंध में जानकारी होने से उन्होंने इन्कार किया।

 दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.