CG Chunav 2018 : नक्‍सलियों ने लौट रहे मतदान दल पर किया आईईडी ब्लास्ट, दो जवान घायल

जगदलपुर। जगदलपुर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत यहां से करीब 47 किलोमीटर दूर ग्राम गुमलवाड़ा स्थित पोलिंग बूथ क्रमांक 160 से ईवीएम लेकर लौट रहे पोलिंग पार्टी पर नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट कर दिया। घटना से सीआरपीएफ के दो जवान मामूली रूप से घायल हो गए।

नक्सल हमले की आशंका से फोर्स ने सभी मतदान कर्मियों को रात में नेतानार स्थित सीआरपीएफ कैंप में रोका था। दल ने दोपहर मुख्यालय पहुंचकर स्ट्रांग रूम में ईवीएम जमा किए।

मतदान दल के सदस्यों ने बताया कि वह नेतानार स्थित सीआरपीएफ चार्ली कंपनी के मुख्यालय से सुरक्षा बल के साथ पैदल चलकर गुमलवाड़ा मतदान केंद्र पहुंचे थे। सोमवार को मतदान संपन्न् कराने के बाद शाम पांच बजकर दस मिनट पर वापसी के लिए रवाना हुए।

गांव से करीब तीन किलोमीटर दूरी पर जंगल में नक्सलियों ने आइईडी ब्लास्ट कर दिया, जिससे सामने चल रहे सीआरपीएफ के दो जवान मामूली रूप से घायल हो गए। वहीं एक स्थान पर नक्सलियों द्वारा तेज आवाज में पटाखे भी फोड़े गए, जिसके चलते उन्हें हमले की आशंका हुई।

घटना से सभी सदस्य दहशतजदा हो गए थे, पर सुरक्षा बलों ने उन्हें आश्वस्त किया और रात में ही नेतानार पहुंचने की सलाह दी। इस प्रकार वह पैदल चलते हुए रात करीब साढे दस बजे कैंप पहुंच गए। घायल जवानों को मरहम पट्टी उपरांत छुट्टी दे दी गई। मतदान दल में कर्मचारी मंगलसाय, नवीन पाणिग्राही, कृष्णलाल गांधाला व अर्जुन कुमार बेग शामिल थे।

मानपुर व सुकतरा में तीन आइईडी बरामद, नक्सली साजिश नाकाम

विधानसभा चुनाव के दूसरे ही दिन नक्सलियों की योजना को पुलिस ने फेल कर दिया। पुलिस ने बकरकट्टा इलाके में तीन आइईडी बरामद किया है, जिसे नक्सली सुरक्षा जवानों को नुकसान पहुंचाने सर्चिंग वाले रास्ते पर लगाकर रखे थे। पुलिस की सतर्कता से बड़ा हादसा टल गया।

मारे गए नक्सलियों की हुई शिनाख्त, दो को जिंदा पकड़ा

सोमवार को सुकमा में हुई मुठभेड़ में मारे गए दोनों नक्सलियों की शिनाख्त हो गई है। वहीं मौके से दो नक्सलियों को जिंदा भी पकड़ा गया है, जिनमें से एक घायल है। एसपी अभिषेक मीणा ने बताया कि सोमवार शाम करीब साढ़े पांच बजे जब पोलिंग पार्टी वापस थाने लौट रही थी, तभी चितोलनार के पास घात लगाए बैठे नक्सलियों ने फायरिंग कर दी। डीआरजी व सीएएफ के जवानों ने जवाबी कारवाई की।

कुछ देर बाद नक्सली भाग खड़े हुए। मौके की सर्चिंग करने पर दो नक्सलियों के शव बरामद हुए, जिनकी शिनाख्त मीतू और जोगा के रूप में हुई है। दोनों प्लाटून नंबर 31 के हैं, जो कांगेर वैली में सक्रिय थे। दो नक्सली भी पकड़े गए हैं, जिनके नाम हिंगा कवासी और हड़मा हैं। इसमें से एक घायल है जिसका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मौके से 303 देसी कट्टा, तीन नग भरमार बंदूक, कोर्डेक्स वायर समेत काफी सामग्री बरामद की गई।

आईईडी की चपेट में आकर ग्रामीण की मौत

सुकमा के चिंतलनार थाने से करीब सात किमी दूर तिम्मापुरम गांव में एक बुजुर्ग ग्रामीण आईईडी की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जवानों को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से नक्सलियों ने खेत में आईईडी लगा रखी थी।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.