Bihar By Election: समस्‍तीपुर लोकसभा सीट पर 45% तो पांच विधानसभा सीटों पर 50% मतदान

पटना [जागरण टीम]। बिहार में एक लोकसभा व पांच विधानसभा सीटों पर सोमवार को उपचुनाव हुआ। मतदाताओं ने 51 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला इवीएम में बंद कर दिया। कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली। समस्‍तीपुर लोकसभा सीट पर 45 फीसद वोट पड़े। पांच विधानसभा सीटों पर करीब 50 फीसद मतदान हुआ।

मतदान के बाद अब मतगणना 24 अक्टूबर को होगी। चुनाव परिणाम भी उसी दिन आएगा। इस उपचुनाव को अगले साल होनेवाले विधानसभा चुनाव के सेमीफाइनल के रूप में देखा जा रहा है। उपचुनाव को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि- ‘चुनाव में जनता मालिक होती है।’

जानिए, कहां कितने पड़े वोट

उपचुनाव की एकमात्र लोकसभा सीट समस्‍तीपुर में 45 फीसद वोट पड़े। शेष पांच विधानसभा सीटों पर करीब 50 फीसद मतदान हुआ। विधानसभा सीटवार बात करें तो किशनगंज में 59.18, सिमरीबख्तिायारपुर मेें 52.50, दरौंदा में 42.20, नाथनगर में 43.20 तथा बेलहर में 53.49 फीसद मतदान हुअा। उपचुनाव में एनडीए और महागठबंधन के बीच सीधी टक्कर है।

45 हथियार, एक एक्सप्लोसिव व 75 गोलियां जब्‍त

मुख्य निर्वाचन अधिकारी एचआर श्रीनिवास ने बताया कि लोकसभा चुनाव की तुलना में नौ फीसदी से कम मतदान हुआ है। उन्होंने बताया कि मतदान के दौरान कुल 45 हथियार, एक एक्सप्लोसिव और 75 गोलियां जब्त की गई हैं। चुनाव के दौरान बांका जिले में सेक्टर दंडाधिकारी विनय कुमार की गाड़ी की टक्कर से एक महिला की मौत हो गई।

मतदान का बहिष्कार

समस्तीपुर लोकसभा क्षेत्र के रोसड़ा थाना के सहियार डीह स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय के मतदान केंद्र संख्या 306 पर स्थानीय सड़क बनाने को लेकर लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया।

समस्तीपुर लोकसभा सीट

यह सीट केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के छोटे भाई रामचंद्र पासवान के निधन के कारण खाली हुई है, जहां उनके बेटे प्रिंस राज लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के उम्‍मीदवार हैं। उनके खिलाफ महागठबंधन की ओर से कांग्रेस के अशोक कुमार हैं।

बेलहर विधानसभा सीट

जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के गिरिधारी यादव के बीते लोकसभा चुनाव में सांसद बनने के कारण खाली हुई सीट पर जेडीयू के जदयू लालधारी यादव मैदान में हैं। जबकि, महागठबंधन की ओर से राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के रामदेव यादव मैदान में हैं।

नाथनगर विधानसभा सीट

जेडीयू के अजय मंडल के सांसद बन जाने के कारण खाली हुई सीट पर जेडीयू के लक्ष्मीकांत मैदान में हैं। उनके मुकाबले महागठबंधन की आरजेडी प्रत्‍याशी राबिया खातून मैदान में हैं। यहां महागठबंधन को झटका देते हुए हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा सुप्रीमो जीतनराम मांझी ने भी अपने प्रत्‍याशी अजय राय को मैदान में उतार दिया है। दरौंदा विधानसभा सीट

जेडीयू की कविता सिंह के सांसद बन जाने के कारण खाली हुई सीट पर कविता सिंह के पति अजय सिंह जेडीयू के प्रत्‍याशी हैं। यहां महागठबंघन की तरफ से आरजेडी के उमेश सिंह मैदान में हैं। इस सीट पर बीजेपी के बागी प्रत्‍याशी कर्णजीत सिंह ने जेडीयू प्रत्‍याशी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

किशनगंज विधानसभा सीट

यहां के कांग्रेस विधायक डॉ. जावेद के सांसद बनने के बाद यह सीट खाली हो गई है। यहां बीजेपी की स्वीटी सिंह मैदान में हैं। महागठबंधन की तरफ से कांग्रेस प्रत्‍याशी सईदा बानो हैं। यहां असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआइएमआइएम ने भी कमरुल होदा को मुकाबले में उतारा है।

सिमरी बख्तियारपुर विधानसभा सीट

जेडीयू के दिनेश चंद्र यादव के सांसद बनने के कारण खाली हुई इस सीट पर जेडीयू ने अरुण यादव को मैदान में उतारा है। महागठबंधन की ओर से आरजेडी के जफर आलम मैदान में हैं।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.