Bihar Election 2020 : दूसरे चरण की 43 में से 15 सीटों पर नये चेहरों के साथ मैदान में है जदयू

नालंदा जिले में भी दो सीटों पर जदयू ने दिए हैं नये उम्‍मीदवार।
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 09:20 AM (IST) Author: Shubh Npathak

जेएनएन, पटना। दूसरे चरण के लिए तीन नवंबर को जिन 94 सीटों पर मतदान होना है, उनमें से 43 सीटों पर जदयू के उम्मीदवार है। महत्वपूर्ण बात यह है कि इन 43 सीटों पर जदयू ने 15 नए प्रत्याशियों को मैदान में उतारा है। वैसे यह अलग बात है कि नए प्रत्याशियों का राजनीतिक बैकग्राउंड जरूर रहा है।

नालंदा में दो नए उम्मीदवारों को मैदान में उतारा :

नालंदा जदयू के गढ़ के रूप में जाना जाता रहा है। यहां भी जदयू ने दो परिवर्तन किए हैैं। दूसरे चरण में इस परिवर्तन की परीक्षा होनी है। राजगीर से जदयू ने अपने विधायक रवि ज्योति को इस बार टिकट नहीं दिया। वहां से इस बार हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य के पुत्र कौशल किशोर को अपना प्रत्याशी बनाया है। यह सीट पूर्व में सत्यदेव नारायण आर्य की ही थी। वह भाजपा की टिकट पर यहां से लगातार चुनाव जीतते रहे थे। वहीं हिलसा से जदयू ने नया प्रत्याशी दिया है। कृष्ण मुरारी शरण उर्फ प्रेम मुखिया को पहली बार चुनाव मैदान में उतारा है।

मैदान में पहली बार मौजूद प्रत्याशियों में महिलाएं भी

जदयू ने दूसरे चरण में जिन पंद्रह नए प्रत्याशियों को मैदान में उतारा है उनमें कई महिलाएं भी हैं। केसरिया से शालिनी मिश्रा पहली बार चुनाव लड़ रही हैैं। इसी तरह फूलपरास से शीला मंडल के लिए यह पहला चुनाव है। एकमा से सीता देवी भी पहली बार मैदान में हैैं। वैसे उनके पति धूमल सिंह इस सीट से विधायक रहे हैैं। मांझी से माधवी सिंह का भी यह पहला चुनाव है। वह पंचायती राज संस्था से जुड़ी हैैं। खगडिय़ा के अलौली से लड़ रहीं साधना सदा के लिए भी यह पहला विधानसभा चुनाव है। वैसे इस चरण में दो महिलाएं ऐसी भी हैैं जो पहले भी जदयू की विधायक रही हैैं। जदयू ने इन्हें पुन: मौका दिया है। इनमें बेलसंड से सुनीता सिंह चौहान व चेरिया बरियारपुर से कुमारी मंजू वर्मा शामिल हैैं।

विरासत की भी दूसरे चरण में परीक्षा

दूसरे चरण के लिए जदयू के प्रत्याशियों की जो सूची है उसमें विरासत की भी परीक्षा होने वाली है। इनमें खगडिय़ा की परबत्ता सीट का नाम सबसे पहले है। पूर्व मंत्री और जदयू के विधायक आरएन सिंह की यह सीट है। वहां से उनके पुत्र डॉ संजीव कुमार सिंह पहली बार मैदान में हैैं। वैशाली से सिद्धार्थ पटेल का भी राजनीतिक बैकग्रांउड रहा है। रिटायर डीजी सुनील कुमार भोरे विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैैं। उनके लिए भी यह पहला चुनाव है। उनका भी राजनीतिक बैकग्राउंड है।

पुराने मोहरे भी मैदान में दिखेंगे इस चरण में

दूसरे चरण में जदयू के टिकट उसके पुराने दिग्गज भी मैदान में दिखेंगे। इनमें हरनौत से हरिनारायण प्रसाद, नालंदा से श्रवण कुमार, बेलदौर से पन्ना लाल पटेल, कल्याणपुर से महेश्वर हजारी,  मटिहानी से बोगो सिंह, हसनपुर से राजकुमार राय,  बरहरिया से श्याम बहादुर सिंह व हथुआ से रामसेवक सिंह का भी नाम लिया जा सकता है।

तीन नवंबर को होने वाले मतदान में जदयू के नए प्रत्याशी

1. शालिनी मिश्रा- केसरिया

2. पंकज मिश्रा- रुन्नी सैदपुर

3. फुलपरास- शीला मंडल

4. बेनीपुर-अजय चौधरी

5. भोरे- सुनील कुमार

6. जीरादेई- कमला कुशवाहा

7. रघुनाथपुर- राजेश्वर चौहान

8. एकमा- सीता देवी

9. मढ़ौरा- अल्ताफ राजू

10. वैशाली- सिद्धार्थ पटेल

11. साहेबपुर कमाल- शशिकांत कुमार शशि

12. अलौली- साधना सदा

13. परबत्ता- डॉ संजीव कुमार सिंह

14. राजगीर- कौशल किशोर

15. हिलसा- कृष्ण मुरारी शरण उर्फ प्रेम मुखिया

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.