top menutop menutop menu

हरेला को विश्व स्तर पर मनाने की जरूरत : हरीश कुकरेती

जागरण संवाददाता, पूर्वी दिल्ली: उत्तराखंड के महापर्व हरेला महोत्सव के अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पर्यावरण प्रकल्प हरेला अभियान समिति की ओर से खजूरी स्थित सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) कार्यालय के परिसर में पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस मौके पर एसीपी हरीश कुकरेती ने हरेला की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि हरियाली प्रकृति की अनुपम देन है। हरियाली धरा का श्रृंगार है और जीवन के लिए पेड़-पौधे आवश्यक तत्व हैं। पर्यावरण की शुद्धता जीवन के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए हम सभी को मिलकर ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने चाहिए। उत्तराखंड का त्योहार हरेला हमें यही संदेश देता है। प्रकृति के इस त्योहार को सिर्फ उत्तराखंड की नहीं, बल्कि राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाया चाहिए। निगम के स्थायी समिति के अध्यक्ष मास्टर सतपाल सिंह ने कहा कि हर व्यक्ति को पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण में अपना योगदान देना चाहिए। इस समय कोरोना महामारी से हमारा बचाव पेड़ -पौधे ही कर सकते हैं। पेड़ स्वच्छ वायु व शुद्ध वातावरण प्रदान करते हैं, तो औषधीय पौधे हमारी रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में उपयोगी होते हैं।

इस अवसर पर करीब 110 औषधीय व फलदार पौधे लगाए गए, जिनमें आम, नीम, अमरूद व तुलसी शामिल रहे। इस मौके पर थानाध्यक्ष पवन कुमार, शिवराज सिंह बिष्ट, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यमुना विहार विभाग के समन्वयक व हिदू जागरण मंच दिल्ली प्रांत के महामंत्री कृष्णपाल चौधरी, हरेला अभियान समिति के सदस्य ताराचंद उपाध्याय, गीत गोस्वामी, संजय अरोड़ा, मन्नू खत्री, उद्यान विभाग के सुपरवाइजर शीशपाल, हवलदार बनी सिंह व प्रवेश शर्मा मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.