Bharat Band 27 September 2021: क्या दिल्ली-एनसीआर पर भी होगा भारत बंद का असर, जानिये- पूरी गाइडलाइन

Bharat Band 27 September 2021 संयुक्त किसान मोर्चा के 27 सितंबर के भारत बंद में कई किसान संगठन शामिल हो रहे हैं। इससे पहले जितने भी भारत बंद हुए उनमें दिल्ली को मुक्त रखा गया औैर इस बार भी उम्मीद है कि दिल्ली में भारत बंद का असर नहीं होगा।

Jp YadavTue, 21 Sep 2021 01:50 PM (IST)
Bharat Band 27 September 2021: क्या दिल्ली-एनसीआर पर भी होगा भारत बंद का असर, जानिये- पूरी गाइडलाइन

नई दिल्ली, जागरण डिजिटल डेस्क। तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के धरना प्रदर्शन को आगामी 27 सितंबर को 10 महीने पूरे हो जाएंगे। ऐसे में संयुक्त किसान मोर्चा में किसान आंदोलन के 10 महीने पूरे होने पर 27 सितंबर को भारत बंद का एलान किया है। इस बाबत किसान संगठनों ने देशभर में भारत बंद को लेकर जोर-शोर से तैयारी की है। संयुक्त किसान मोर्चा के 27 सितंबर के भारत बंद में कई और किसान संगठन भी शामिल हो रहे हैं। इनकी संख्या 100 के आसपास बताई जा रही है। इससे पहले जितने भी भारत बंद हुए उनमें दिल्ली को मुक्त रखा गया औैर इस बार भी उम्मीद है कि दिल्ली में भारत बंद का असर नहीं होगा।

दिल्ली रहेगा मुक्त ! एनसीआर पर होगा असर

मिली जानकारी के मुताबिक, पूर्व की तरह भारत बंद का देश की राजधानी पर कोई असर नहीं होगी। वहीं, एनसीआर के शहरों गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, पलवल, फरीदाबाद, सोनीपत, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ समेत समूचे दक्षिण हरियाणा में भारत बंद का व्यापक असर दिखाई दे सकता है।

संयुक्त किसान मोर्चा की संभावित गाइडलाइन

शांतिपूर्ण होगा प्रदर्शन

संयुक्त किसान मोर्चा के पदाधिकारी आगामी 27 सितंबर के भारत बंद को लेकर बार-बार यह आश्वासन दे रहे हैं कि बंद शांति पूर्ण होगा। SKM ने फिर दोहराया है कि भारत बंद के मद्देनजर 27 सितंबर का प्रदर्शन शांतिपूर्ण होगा।

आम जनता को नहीं होगी कोई परेशानी

संयुक्त किसान मोर्च के साथ भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत बार-बार यह कहते नजर आ रहे हैं कि 27 सितंबर के भारत बंद को लेकर आम लोगों को कोई दिक्कत नहीं होने दी जाएगी।

संयुक्त किसान मोर्चा के कार्यकर्ता और उससे जुड़े किसान यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि भारत बंध के दौरान 27 सिंतबर को आम लोगों को कोई असुविधा न हो।

अपनी इच्छा से लोग भाग लें भारत बंद में

पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान समेत तमाम राज्यों  में किसान संगठन लोगों से भारत बंध में शामिल होेने की अपील कर रहे हैं। साथ ही यह भी कह रहे हैं कि भारत बंद में शामिल होने के लिए किसी पर दबाव नहीं है। इस शांतिपूर्ण बंद में लोग अपनी इच्छा से शामिल हों।

जरूर सेवाएं रहेंगी बंद से बाहर

संयुक्त किसान मोर्चा के पदाधिकारियों की मानें तो दूध,सब्जी समेत तमाम जरूर सामान की आवाजाही बाधित नहीं की जाएगी। इसके साथ सभी तरह के दफ्तरों को बंद करने पर जोर नहीं दिया जाएगा। बंद सुबह 6 बजे शुरू होगा और शाम 4 बजे तक चलेगा।

किन पर रहेगा रोक

बाजार दुकान कारखाने स्कूल कालेज सार्वजनिक और निजी परिवहन को सड़कों पर चलने की अनुमति नहीं होगी। बंद के दौरान किसी भी सार्वजनिक समारोह की अनुमति नहीं दी जाएगी। केवल एम्बुलेंस और दमकल सेवाओं सहित आपातकालीन सेवाएं ही काम कर सकती हैं।

गौरतलब है कि 5 सितंबर को यूपी के मुजफ्फरनगर में आयोजित किसान महापंचायत में भारत बंद का एलान हुआ था। किसानों का कहना है कि 27 सितंबर का बंद ऐतिहासिक होगा। इस दिन सब कुछ बंद रहेगा। 

Delhi Metro Timing: 1 अक्टूबर से फिर बदल जाएगा दिल्ली मेट्रो इस रूट पर परिचालन का टाइमिंग, आप पर भी पड़ेगा असर

Festival Special Train: दीवाली और छठ पर घर जाने वालों के लिए खुशखबरी, जरूरत पड़ने पर चलाई जाएंगीं स्पेशल ट्रेनें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.