Lockdown Extension AGAIN! उत्तर प्रदेश और दिल्ली में 17 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, जानिये- गाइडलाइन

Lockdown Extension AGAIN! क्या दिल्ली-हरियाणा और यूपी में 10 मई के बाद भी बढ़ेगा लॉकडाउन?

Lockdown Extension AGAIN! कोरोना की तीसरी लहर में एनसीआर के सभी शहरों में संक्रमण लगातार बढ़ रहा है और मौतों की आंकड़ा भी डराने वाला है। ऐसे में दिल्ली और उत्तर प्रदेश में सत्तासीन सरकारों ने लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ा दिया गया है।

Jp YadavSat, 08 May 2021 11:43 AM (IST)

नई दिल्ली/नोए़डा/गुरुग्राम, ऑनलाइन डेस्क। दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण का कहर जारी है। दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 20,000 से नीचे तो आ रहे हैं, लेकिन हालात काबू में आने में समय लगेगा। कुछ ऐसा ही हाल दिल्ली से सटे गाजियाबाद, नोएडा के अलावा गुरुग्राम और फरीदाबाद का भी है। कोरोना की तीसरी लहर में एनसीआर के इन शहरों में संक्रमण लगातार बढ़ रहा है और मौतों की आंकड़ा भी डराने वाला है। इस बीच दिल्ली और उत्तर प्रदेश की सरकारों ने लॉकडाउन 17 मई तक जारी रखने का एलान किया है। माना जा रहा है कि दिल्ली और उत्तर प्रदेश के बाद हरियाणा सरकार भी रविवार शाम तक आगामी एक सप्ताह तक लॉकडाउन बढ़ाने का एलान कर देगी।

दिल्ली में भी लॉकडाउन बढ़ाया 

कोरोना के मामले कम आने के बावजूद देश की राजधानी दिल्ली में हालात बहुत अच्छे नहीं हैं। आम जनता के अलावा, कारोबारियों-व्यापारियों ने भी कहा था कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए दिल्ली में संपूर्ण लॉकडाउन सख्ती के साथ लगाया जाना जरूरी है। यह अलग बात है कि महामारी से गुजर रहे राजधानी दिल्ली के लोगों के लिए राहत की बात यह है कि अब संक्रमण दर कम होने लगी है। पिछले दो सप्ताह में जहां संक्रमण दर में 12 फीसद की कमी आई है। वहीं विशेषज्ञों का दावा है कि सतर्कता का यही स्तर रहा तो 15 मई बाद संक्रमण दर 10 फीसद तक पहुंच सकती है। बावजूद इसके हालात पर काबू पाने के लिए लॉकडाउन बढ़ाया जाना जरूरी है। यही वजह है कि दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन बढ़ाकर 17 मई तक जारी रखने की घोषणा की है।

नोएडा-ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में बढ़ाया गया लॉकडाउन

दिल्ली से सटे गाजियाबाद और गौतबुद्धनगर में भी दिल्ली जैसे ही हालात हैं। दोनों जिलों में लगातार कोरोना के मामले बढ़े रहे हैं। पिछले कुछ दिनों के दौरान कोरोेना के मामले कम हुए हैं, लेकिन इसे राहत के तौर पर नहीं देखा जा सकता है। ऐसे में  यूपी सरकार ने लोगों की जिंदगी को बचाने और राहत के लिए लॉकडाउन को 17 मई जारी रखने का एलान किया है।

Lockdown 2021 Extension: देश की राजधानी में 17 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, दिल्ली मेट्रो का संचालन भी होगा बंद

दिल्ली से सटे हरियाणा के शहरों में भी लॉकडाउन बढ़ना जरूरी

दिल्ली-एनसीआर को एक नए शहर के रूप में माना जाता है। यहां पर यूपी और दिल्ली में लॉकडाउन लगाने से कोई खास फायदा नहीं होने वाला है, क्योंकि आवाजाही सामान्य ही रहेगी। ऐसे में माना जा रहा है कि हरियाणा सरकार भी 10 मई के बाद भी लॉकडाउन जारी रखने का फैसला कर सकती है।

व्यापारियों ने की थी लॉकडाउन को एक सप्ताह और बढ़ाने की मांग

कोरोना के हालात के मद्देनजर दिल्ली के व्यापारियों ने लॉकडाउन को एक सप्ताह और बढ़ाने की मांग की थी। इस संबंध में पिछले दिनों व्यापारियों से ऑनलाइन बैठक के बाद कन्फेडरेशन आफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने उपराज्यपाल अनिल बैजल व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र भी लिखा था। व्यापारियों का कहना था कि महामारी की वर्तमान स्थिति में हालात अभी भी दुकानें और बाजार खोलने लायक नहीं बने हैं। ऐसे में वर्तमान लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की जरूरत है। पत्र में कैट ने वर्तमान लाकडाउन को 17 मई तक आगे बढ़ाने का आग्रह किया था जो 10 मई को खत्म हो रहा था।

Delhi Metro Commuters Alert ! 16 मई तक नहीं चलेगी दिल्ली मेट्रो, यात्रियों का लगा झटका

इस बीच एक दिन पहले ही शनिवार को चैंबर आफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआइ) ने जानकारी दी है कि राजधानी दिल्ली के 65 फीसद व्यापारी लॉकडाउन बढ़ाने के हक में हैं। इसको लेकर 480 व्यापारी व औद्योगिक संगठनों की राय ली गई है। सीटीआइ के चेयरमैन बृजेश गोयल व अध्यक्ष सुभाष खंडेलवाल ने बताया कि दिल्ली में संक्रमण की दर और स्वास्थ्य ढांचे में बड़ा सुधार नहीं आया है, ऐसे में अधिकांश व्यापारी लॉकडाउन बढ़ाए जाने के हक में है।

इन इलाकों के कारोबारी चाहते थे 17 मई तक बढ़े लॉकडाउन

कश्मीरी गेट चांदनी चौक चावड़ी बाजार सदर बाजार खारी बावली करोलबाग कमला नगर राजौरी गार्डन नेहरू प्लेस साउथ एक्सटेंशन गांधी नगर लक्ष्मी नगर रोहिणी पीतमपुरा जनकपुरी मालवीय नगर द्वारका ग्रेटर कैलाश

जब तक स्वास्थ्य ढांचा न सुधरे तब तक लगे लाकडाउन: बीयूवीएम

भारतीय उद्योग व्यापार मंडल (बीयूवीएम) ने प्रधानमंत्री व दिल्ली के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि जब तक राष्ट्रीय राजधानी के स्वास्थ्य ढांचे में सुधार न हो जाएं तब तक यहां सख्त लाकडाउन लगाया जाना चाहिए। इस संबंध में बीयूवीएम दिल्ली के महामंत्री राकेश यादव व हेमंत गुप्ता समेत कारोबारी नेता अरुण सिंघानिया व प्रदीप गुप्ता ने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा तीन हफ्ते से लॉकडाउन लगाया गया है लेकिन अभी भी संक्रमण की दर 25 फीसद के करीब है जो बेहद गंभीर श्रेणी में आता है। ऐसे में जब तक आक्सीजन, जीवन रक्षक दवाइयां और और अस्पताल की उपलब्धता व्यावहारिक स्तर तक न आ जाए तब तक यह लाकडाउन हो।

Delhi Lockdown Extended: पढ़िये- दिल्ली में 17 मई तक लगाए गए लॉकडाउन के मद्देनजर 2 बड़े एलान

लॉकडाउन के नियम और गाइडलाइन

इन्हें ID दिखाने पर मिलेगी छूट

केंद्र व दिल्ली सरकार के अधिकारी पीएसयू व निगमों के अधिकारी स्वास्थ्य विभाग पुलिस जेल अधिकारी-कर्मचारी होमगार्ड सिविल डिफेंस अग्निशमन इमरजेंसी सेवाएं जिला प्रशासन पे व अकाउंट परिवहन कर्मचारी (हवाई सेवा, रेल व बस कर्मचारी) नगर निगम, बिजली, पानी, सफाई विभाग व आपदा प्रबंधन विभाग के कर्मचारी पूरी क्षमता से काम करेंगे। दिल्ली सरकार ने न्यायिक सेवा अधिकारी कोर्ट में कार्यरत अधिकारियों, डॉक्टर, नर्स, पारामेडिकल स्टाफ, क्लिनिक व अस्पताल के कर्मचारी को आई कार्ड दिखाने पर आने जाने की अनुमति दी है। प्रिंट मीडिया व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मियों को आई कार्ड दिखाने पर आवागमन की छूट दी गई है। गर्भवती महिला को आने जाने की छूट होगी एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन या बस अड्डे से निकलने वाले यात्री अपना यात्रा टिकट दिखाकर आवागमन कर सकेंगे। ऑटो में दो सवारी इनके लिए भी नहीं होगी परेशानी

दिल्ली में अब तक करीब साढ़े पांच फीसद लोगों को लगा दोनों डोज टीका

कोरोना के संक्रमण के बीच टीकाकरण की रफ्तार बढ़ी है। पहली डोज के साथ-साथ दूसरी डोज लेने वालों की संख्या भी बढ़ रही है। फिर भी अभी तक दिल्ली में करीब साढ़े पांच फीसद लोगों को ही टीके की दोनों डोज लग पाई है। वहीं करीब 19.17 फीसद लोगों को पहली डोज लग चुकी है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार बृहस्पतिवार को एक लाख 14 हजार, 657 लोगों ने टीका लिया, जो एक दिन में सबसे ज्यादा है। इसके तहत 80,306 लोगों ने टीके की पहली डोज व 34,351 लोगों ने टीके की दूसरी डोज ली। इससे दिल्ली में अब तक कुल 36 लाख 66 हजार 694 डोज टीका लगा है। इसमें से 28 लाख 56 हजार 955 लोगों ने टीके की पहली डोज ली है। दिल्ली में 18 साल से अधिक उम्र के करीब एक करोड़ 49 लाख लोग हैं। इस लिहाजा से 19.17 फीसद लोगों को पहली डोज लग चुकी है। वहीं अब तक 8 लाख नौ हजार 739 लोगों ने दूसरी डोज ली है।

ये भी पढ़ें- इन दो हाइ प्रोफाइल कारोबारियों को थी देश में कोरोना की दूसरी लहर आने की जानकारी, तभी से जमा कर रहे थे चिकित्सा उपकरण

ये भी पढ़ें- Delhi Lockdown Extend: जानिए CTI से जुड़े कितने फीसद व्यापारी चाहते दिल्ली में बढ़ाया जाए लॉकडाउन, सरकार पर छोड़ा फैसला

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.