दिल्ली-एनसीआर में सक्रिय दो वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़, चार गिरफ्तार

पुलिस ने गिरोह के पास से सात वाहन बरामद किए। जिला पुलिस उपायुक्त आर सत्यसुंदरम ने बताया कि शाहदरा थाने के एसआई देशपाल और हेड कांस्टेबल प्रमोद की टीम गश्त कर रही थी। तभी उनकी नजर अहमद नाम के संदिग्ध युवक पर पड़ी जिसे बाद में पकड़ा गया।

Prateek KumarSat, 19 Jun 2021 08:10 AM (IST)
पुलिस ने एटा निवासी वाले वसीम और गणेश नगर के दीपक को गिरफ्तार किया है।

नई दिल्ली [शुजाउद्दीन]। दिल्ली-एनसीआर में सक्रिय दो वाहन चोर गिरोह का शाहदरा जिला पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। शाहदरा थाना पुलिस ने मोदीनगर निवासी जावेद और लोनी बेहटा हाजीपुर निवासी अहमद सैफी को अरेस्ट किया है। इनसे चोरी के तीन दुपहिया वाहन बरामद किए हैं। वहीं मानसरोवर पार्क थाना पुलिस ने एटा निवासी वाले वसीम और गणेश नगर के दीपक को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने इस गिरोह के पास से सात वाहन बरामद किए हैं। जिला पुलिस उपायुक्त आर सत्यसुंदरम ने बताया कि शाहदरा थाने के एसआई देशपाल और हेड कांस्टेबल प्रमोद की टीम 17 जून को बलबीर नगर में गश्त कर रही थी। तभी उनकी नजर अहमद नाम के संदिग्ध युवक पर पड़ी, टीम ने उसे पकड़ कर तलाशी ली तो उसके पास वाहनों के ताले तोड़ने वाले औजार मिले। उसने बताया कि वह जावेद नाम के युवक के साथ मिलकर वाहन चोरी करता है।

वहीं मानसरोवर पार्क थाने के एएसआई जीतपाल और हेड कांस्टेबल दीपक कुमार की टीम जीटी रोड फ्लाईओवर के पास राधा कृष्ण मंदिर पर 16 जून को वाहनों की चेकिंग कर रहे थे, उन्होंने एक मोटरसाइकिल पर सवार दो युवकों को जांच के लिए रोका। जांच में मोटरसाइकिल चोरी की मिली। पुलिस ने वसीम और दीपक को दबोच लिया। पुलिस को इनके पास ताले तोड़ने के औजार भी मिले। पुलिस को पता चला वसीम 50 से ज्यादा गाड़ी चोरी की वारदातों में शामिल रहा है।

विवाहिता ने फांसी लगाकर दी जान

दयालपुर इलाके में दहेज उत्पीड़न के चलते एक विवाहिता ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतका की पहचान शाहीन के रूप में हुई है। पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने मृतका के पिता की शिकायत पर पति और अन्य ससुराल वालों के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन को सौंप दिया है। पुलिस के अनुसार शाहीन की शादी चार वर्ष पहले नेहरू विहार निवासी शदाब से हुई थी। शाहीन के पिता मुफीज का आरोप है कि शादी के कुछ ही दिनों के बाद शदाब और उसके परिवार ने उनकी बेटी को दहेज के लिए परेशान करना शुरू कर दिया था। उसके साथ मारपीट करते थे, बुधवार को पति ने दहेज के लिए शाहीन को बुरी तरह से पीटा था। जिसके चलते शाहीन ने अपने कमरे में फांसी लगा ली।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.