रंगदारी और फायरिंग मामले में दो बदमाश गिरफ्तार, दो की तलाश जारी

रंगदारी और फायरिंग मामले में दो बदमाश गिरफ्तार, दो की तलाश जारी
Publish Date:Mon, 06 Jul 2020 03:57 PM (IST) Author: Prateek Kumar

नई दिल्‍ली (भगवान झा)। छावला थाना क्षेत्र में एक प्रॉपर्टी डीलर से 25 लाख रुपये की रंगदारी मांगने व न देने पर घर पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर फरार होने के मामले में पुलिस ने दो बदमाश को गिरफ्तार किया है। इस मामले में चार बदमाशों ने वारदात को अंजाम दिया था। अन्य दो बदमाश की तलाश पुलिस कर रही है। बदमाश के पास से एक पिस्टल व एक कारतूस बरामद हुए हैं।

डीलर ने दर्ज कराई थी शिकायत

द्वारका जिला पुलिस उपायुक्त एंटो अल्फोंस ने बताया कि खैरा गांव के एक प्रॉपर्टी डीलर ने 24 जून को दी गई शिकायत में कहा कि उनके घर के सामने एक मोटरसाइकिल पर सवार तीन बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की और फरार हो गए। इसके साथ ही पीड़ित ने 25 लाख रुपये की रंगदारी की कॉल आने की शिकायत भी पुलिस से की।

शिकायत मिलते ही गठित हुई टीम

मामले की गंभीरता को देखते हुए एसीपी अशोक त्यागी के मार्गदर्शन व इंस्पेक्टर ज्ञानेंद्र राणा के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई। टीम में कांस्टेबल प्रदीप व प्रवीण भी शामिल थे। जांच के दौरान घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज को पुलिस ने खंगाला साथ ही स्थानीय लोगों से पूछताछ की। सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर तीन जुलाई को बलजीत धनखड़ को पुलिस ने गिरफ्तार किया। साथ ही चार जुलाई को प्रदीप भी पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

रंगदारी की वसूलने की रची गई थी साजिश

पूछताछ के दौरान बलजीत धनखड़ ने पुलिस को बताया कि उसे व प्रदीप को पैसे की सख्त जरूरत थी। ऐसे में प्रॉपर्टी डीलर से रंगदारी वसूलने की साजिश रची गई। इस दौरान प्रदीप ने भोंडसी जेल में बंद रणवीर से संपर्क किया। रणवीर व प्रदीप की मुलाकात जेल में हुई थी। बलजीत ने खैरा गांव निवासी प्रॉपर्टी डीलर का फोन नंबर रणवीर को उपलब्ध कराया। इसके बाद जेल से ही रणवीर ने प्रॉपर्टी डीलर से 25 लाख रुपये की रंगदारी मांगी। प्रदीप व रणवीर में इस बात को लेकर सहमति बनी थी कि रंगदारी की रकम आधी-आधी दोनों लेंगे।

पैसे नहीं देने पर की फायरिंग

धमकी के बाद भी जब रंगदारी के पैसे प्रॉपर्टी डीलर ने नहीं दिए तो उन्हें धमकाने के लिए प्रदीप, दीपक व आशीष एक मोटरसाइकिल पर सवार होकर पीड़ित घर पर पहुंचे और ताबड़तोड़ फायरिंग की थी। इस मामले में दीपक व आशीष की तलाश पुलिस कर रही है। साथ ही एक टीम भोंडसी जेल गई है, जहां इस मामले में रणवीर से पूछताछ की जाएगी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रणवीर को रिमांड पर लेने की प्रक्रिया भी चल रही है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.