कभी गोगी और टिल्लू में सुलह के लिए हुई थी पंचायत, जानें गैंग की बड़ी वारदातों के बारे में

जितेंद्र उर्फ गोगी और सुनील मान उर्फ टिल्लू पहले एक साथ थे। 2013 जब दोनों अलग हो गए तब गिरोह में शामिल कुछ बदमाश जितेंद्र व कुछ सुनील के साथ आ गए। दोनों गिरोह एक दूसरे के दुश्मन बन गए और उनके बीच गैंगवार शुरू हो गई।

Prateek KumarFri, 24 Sep 2021 07:38 PM (IST)
पानीपत में गोगी एवं उसके तीन साथियों ने हरियाणवी गायिका हर्षिता दहिया की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

नई दिल्ली [राकेश कुमार सिंह]। दिल्ली के नामी गिरोह में गोगी गैंग ने कम ही वक्त में क्राइम की दुनिया में काफी नाम बना लिया था। हालांकि, उसकी मौत दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार दोपहर को हुई। उसकी हत्या के लिए दो बदमाश आए थे जो टिल्लू गैंग से ताल्लुक रखते थे। पुलिस की मुठभेड़ में टिल्लू गैंग के दोनों बदमाश भी वहीं ढेर हो गए है। आइए जानते हैं गोगी गैंग के द्वारा की गई कुछ बड़ी वारदातें जिससे क्राइम की दुनिया में बड़ी हलचल मचा दी थी।

बुराड़ी में गैंगवार

18 जून 2018 :- बुराड़ी में वर्चस्व को लेकर गोगी गिरोह के बदमाशों ने विरोधी संदीप उर्फ टिल्लू गिरोह के बदमाशों पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई थीं। गोगी को पता चला था कि दीपक नाम का बदमाश खुद को उसका जीजा होने की बात कह रहा था। इससे नाराज होकर गोगी ने अपने शूटरों के जरिए दीपक की हत्या करवा दी थी। उस केस की पैरवी दीपक का मामा मुकुल उर्फ सोनू कर रहा था। गोगी चाहता था कि मुकुल उस बकेस की पैरवी न करे, लेकिन वह नहीं माना। उसने टिल्लू गिरोह से हाथ मिला लिया था। इसलिए गोगी ने मुकुल को मारने की योजना बनाई थी। मुकुल संतनगर स्थित जिम में रोजाना जाता था। घटना के वक्त जब मुकुल और उसके साथी जिम से बाहर निकल रहे थे। तभी फॉर्च्यूनर कार पर सवार बदमाशों ने उन पर सरेआम गोलियां बरसानी शुरू कर दी थी। गैंगवार में दोनों गुट के तीन लोगों की मौत हो गई थी। साथ ही घटना के समय उधर से गुजर रही एक राहगीर महिला की भी मौत हो गई थी।

हरियाणवी गायिका हर्षिता दहिया की हत्या

17 अक्टूबर 2017 :- पानीपत में गोगी एवं उसके तीन साथियों ने हरियाणवी गायिका हर्षिता दहिया की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। बदमाशों ने गायिका की छाती में कई गोलियां दागी थीं। हर्षिता की हत्या उसके ही जीजा दिनेश कराला के कहने पर गोगी ने की थी। दिनेश ने गोगी को किसी मामले में मदद की थी जिससे हर्षिता की हत्या के बदले गोगी ने भी कराला से कोई पैसा नहीं लिया था। घटना वाले दिन हर्षिता अपने कुछ परिचितों के साथ कार से पानीपत के चमराड़ा गांव से पुग्थला के रास्ते कहीं जा रही थीं। चमराड़ा से बाहर निकलते ही एक कार ने उनकी कार को ओवरटेक कर उनकी कार को रुकवा कर गोली मार दी थी।

नरेला में बसपा नेता की हत्या

8 सितंबर 19 :- गोगी और उसके गिरोह के बदमाशों ने नरेला में बसपा नेता वीरेंद्र मान को 22 गोलियां मार हत्या कर दी थी। वीरेंद्र खेड़ा का रहने वाला था। उसपर भी कई मुकदमें थे। हमलावर पहले से लामपुर मोड पर घात लगाए बैठे हुए थे। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश नाहरपुर गांव की तरफ फरार हो गए थे।

2013 में हुए थे अलग

जितेंद्र उर्फ गोगी और सुनील मान उर्फ टिल्लू पहले एक साथ थे। 2013 जब दोनों अलग हो गए तब गिरोह में शामिल कुछ बदमाश जितेंद्र व कुछ सुनील के साथ आ गए। दोनों गिरोह एक दूसरे के दुश्मन बन गए और उनके बीच गैंगवार शुरू हो गई। दोनों तरफ से बड़ी संख्या में बदमाशों के मारे जाने पर इनके बीच सुलह कराने के लिए 2016 में अलीपुर के कई गांवों के बुजुर्गों ने पंचायत बुलाई थी, लेकिन कोशिश नाकामयाब रही। जितेंद्र व उसके साथियों ने टिल्लू के साथी सुनील मान के भाई कुणाल की पिटाई कर दी थी। इसके बाद दोनों तरफ से गैंग वार शुरू हो गया था।।

इस तरह चली अदावत की जंग

21 जनवरी 2015 को आदर्श नगर में गोगी ने टिल्लू के साथी राजू की हत्या कर दी थी। बदला लेने के लिए टिल्लू गैंग ने 23 फरवरी 2015 में अरुण कमांडो की हत्या कर दी। हमले में उसका साथी मंजीत भी मारा गया था। इसके बाद टिल्लू गैंग ने सोनीपत में गोगी से जुड़े निरंजन मास्टर की हत्या कर दी थी। बदले में गोगी की तरफ से अलीपुर में टिल्लू के सबसे खास साथी विकास उर्फ आलू के भाई सुमित की हत्या कर दी गई। 5 नवंबर 2017 को अलीपुर में अंकित नाम के शिक्षक को गोली मारकर हत्या कर दी गई। अंकित गोगी गैंग से जुड़ा था। इस वारदात को टिल्लू गैंग के बदमाशों ने अंजाम दिया था।

15 जनवरी 2018 में रोहिणी कोर्ट के पास हुए मोनू उर्फ नेपाली और उसके दोस्त दिग्विजय पर हमला किया गया जिसमें नेपाली की मौत हो गई। गोगी ने टिल्लू से जुड़े देवेंद्र प्रधान को मार डाला, जिसका बदला लेने के लिए टिल्लू गैंग ने बकौली के रहने वाले अंकित को मौत के घाट उतार दिया था। गोगी गैंग लगातार हावी होता चला गया। उसने स्वरूप नगर में दीपक उर्फ बंटी को मार डाला। इसके बाद सोनीपत में गायिका हर्षिता दहिया को मार डाला, क्योंकि हत्या के एक मामले में वह गवाह थी फिर उसने प्रशांत विहार में रवि भारद्वाज उर्फ बंटी की हत्या कर दी थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.