• POWERED BY

Govt Employees Strike News: हड़ताल पर जाने वाले हैं दिल्ली नगर नगर निगम के हजारों शिक्षक

Govt Employees Strike News उत्तरी दिल्ली नगर निगम (North Delhi Municipal Corporation) में वेतन न मिलने के कारण डाक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ के बाद शिक्षक भी हड़ताल पर जा रहे हैं। शिक्षक भाजपा मुख्यालय पर धरना भी देंगे।

Jp YadavThu, 02 Dec 2021 10:44 AM (IST)
Govt Employees Strike News: हड़ताल पर जाने वाले हैं दिल्ली नगर नगर निगम के हजारों शिक्षक

नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। उत्तरी दिल्ली नगर निगम (North Delhi Municipal Corporation) में वेतन न मिलने के कारण डाक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ के बाद शिक्षक भी हड़ताल पर जा रहे हैं। इसके साथ ही अब आठ दिसंबर को भारतीय जनता पार्टी के मुख्यालय पर करीब 7000 शिक्षक धरना देंगे। यह बात बुधवार को आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कही। बुधवार को सौरभ भारद्वाज ने प्रेसवार्ता कर कहा कि केंद्र और भाजपा के आधीन आने वाली एजेंसियों पर उत्तरी दिल्ली नगर निगम का करीब 27,800 करोड़ रुपये बकाया है।इसमें केंद्र सरकार पर नगर निगम का 12,444 करोड़ बकाया है। इसमें दक्षिणी नगर निगम पर 2500 करोड़, डीडीए पर 857 करोड़ रुपये और होर्डिंग्स का 12000 करोड़ रुपये उत्तरी निगम का बकाया है।यह निगम यह बकाया पैसा वसूलकर कर्मचारियों को वेतन दे सकता है, लेकिन दिल्ली सरकार को ऐंठने और बदनाम करने के लिए ऐसा नहीं करता।

विधायक सौरभ भारद्वाज ने यह भी कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम में सत्तासीन भाजपा नेता कर्मचारियों को हड़ताल करने देते हैं ताकि वे लोग परेशान हों। उन्होंने कहा कि हम इस मुद्दे पर दो-तीन बार बता चुके हैं कि उत्तरी निगम ने अपने डाक्टर्स, नर्सेज, पैरामेडिकल स्टाफ, शिक्षकों को और अन्य कर्मचारियों को दीवाली का बोनस तो बहुत दूर की बात है, उन्हें दीवाली पर तनख्वाह तक नहीं दी। बार-बार चेतावनी देने के बावजूद उन्होंने तनख्वाह जारी नहीं की। उनकी तीन महीने की तनख्वाह बकाया है और पांच महीने का डीए, एचआरए बकाया है। यहां पर बता दें कि दिल्ली सरकार और दिल्ली नगर निगमों के बीच बकाये को लेकर जोड़तोड़ जारी है। अगले साल दिल्ली नगर निगम के चुनाव होने हैं। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी और दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी के बीच राजनीति तेज हो गई है।

निगम कर्मियों की परेशानी बढ़ा रही आप: कपूर

उधर, AAP के आरोप  पर दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने कहा कि यह बेहद दुखद है कि दिल्ली सरकार एवं आम आदमी पार्टी (आप) लगातार वेतन के लिए परेशान नगर निगम कर्मचारियों की भावनाओं से खिलवाड़ कर रही हैं । आप नेता कर्मचारियों की परेशानी दूर करने की जगह राजनीतिक ब्यानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि निगमकर्मी यह भलीभांति जानते हैं की दिल्ली सरकार तीसरे, चौथे एवं पांचवें दिल्ली वित्त आयोग की सिफारिश के अनुसार फंड नहीं दे रही है जिससे निगमों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। उन्होंने कहा कि आप विधायक सौरभ भारद्वाज का यह बयान भ्रामक है कि निगम की संपत्ति बेचकर भी कर्मचारियों को वेतन नहीं दिया जा रहा है। सच्चाई यह है कि निगम की संपत्तियों पर न तो किसी का कोई कब्जा हुआ है और न कोई भुगतान आया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.