दिल्ली में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों के लिए अब श्मशान घाट और कब्रिस्तानों पर रखी जाएगी निगरानी

जरुरत पड़ी तो विभिन्न श्मशान घाटों में बढ़ाई जाएगी प्लेटफार्म की संख्या या आरक्षित किए जाएंगे स्थान।

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों के लिए अब श्मशान घाट और कब्रिस्तानों पर निगरानी की जाएगी। निगम की ओर से स्वास्थ्य विभाग को निगरानी के निर्देश दिए गए हैं। कहा गया है कि अंतिम संस्कार की निगरानी की जाए।

Vinay Kumar TiwariTue, 13 Apr 2021 07:34 PM (IST)

नई दिल्ली, [निहाल सिंह]। राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण और मौत के मामलों को देखते हुए निगमों ने निगरानी के निर्देश दिए हैं। निगमों ने स्वास्थ्य विभाग को कहा है कि श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों पर कोरोना से होने वाली दुखद मौतों के अंतिम संस्कार की निगरानी की जाए।

स्वास्थ्य विभाग यह सुनिश्चित करें कि किसी को कब्रिस्तानों और श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार के लिए इंतजार न करना पड़े। या फिर अन्य तरह की कोई भी परेशानी न उठानी पड़े। हालांकि निगमों का कहना है कि फिलहाल स्थिति सामान्य और सभी श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों पर व्यवस्था पर्याप्त है। अभी तक किसी को कोई भी परेशानी न ही शिकायत मिली है और न ही कोई मामला सामने आया है।

उत्तरी दिल्ली के महापौर जय प्रकाश ने बताया कि वह प्रतिदिन के आधार पर सभी श्मशान घाटों और कब्रिस्तानों की रिपोर्ट ले रहे हैं। प्रशासन द्वारा किए गए इंतजामों में फिलहाल तो कोई कमी नहीं हैं। उन्होंने बताया कि विभाग को उन्होंने इस संबंध में निर्देश दिया है कि अगर किसी श्मशान घाट पर कोरोना के अंतिम संस्कार के ज्यादा मामले आ रहे हैं तो अस्पताल से संपर्क कर निर्धारित किए गए नजदीकी श्मशान घाट पर भेजे।

ताकि लोगों को इंतजार न करना पड़े। इससे भी संक्रमण को रोका जा सकता है। अगर, लोगों को ज्यादा समय अंतिम संस्कार में नहीं लगेगा तो इससे लोग एक दूसरे के संपर्क में कम समय तक आएंगे। जिससे संक्रमण को रोका जा सकता है।

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के नेता सदन नरेंद्र चावला ने बताया कि सभी जगह पर पर्याप्त इंतजाम हैं। फिलहाल पूरी क्षमता के साथ यह सेंटर चल रहे हैं। अगर जरुरत पड़ी तो और भी इंतजाम किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि फिलहाल निर्धारित किए गए श्मशान घाटों पर कुछ प्लेटफार्म निर्धारित किए गए हैं।

अगर, जरुरत पड़ी तो विशेष रूप से भी अन्य श्मशान घाटों को कोरोना के लिए ही चिन्हित किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि दक्षिणी निगम में छह तो उत्तरी में आठ और पूर्वी निगम में पांच स्थान कोरोना मृतकों के अंतिम संस्कार या सुपुर्द ए-खाक के लिए चिन्हित किए गए हैं। बीते तीन दिनों में लगातार मौत के मामले भी बढ़ रहे हैं।

उत्तरी निगम में कहा कितने हुए अंतिम संस्कार

स्थान - पुष्ट - संदिग्ध - कुल

निगम बोध श्मशान घाट- 2237 362 2599

पंचकुइंया रोड शवदाह गृह- 509 25 534

इंद्रपुरी शवदाह गृह- 44 8 52

बेरी वाला बाग शवदाह गृह- 608 15 623

वजीरपुर शवदाह गृह- 172 20 192

मंगोलपुरी शवदाह गृह- 574 175 749

मंगोलपुरी कब्रिस्तान (मुस्लिम)- 75 11 86

मंगोलपुरी कब्रिस्तान (ईसाई)- 119 8 127

कुल:4338-624-4962 (31 मई से 2020 से 5 अप्रैल 2021 तक)

14 मार्च से 30 मई तक 542 अंतिम संस्कार हुए

-उत्तरी निगम में पांच अप्रैल तक 5504 अंतिम संस्कार कोरोना से संबंधित हुए

-दक्षिणी निगम में 11 अप्रैल तक 5502 अंतिम संस्कार कोरोना से संबंधित हुए

- पूर्वी निगम में वर्ष 2020-21 में 1958 अंतिम संस्कार कोरोना से संबंधित हुए

दक्षिणी निगम में 2021 की स्थिति

फरवरी-28

मार्च-73

अप्रैल -163 (11 अप्रैल तक)

दक्षिणी निगम की स्थिति (1 से 11 अप्रैल तक

स्थान- 1-2-3-4-5-6-7-8-9-10-11

पंजाबी बाग शवदाह गृह-4-4-4-7-4-3-8-13-8-15-13

हस्तसाल शवदाह गृह-0-0-0-0-0-2-0-2-0-1-2

सेक्टर-24 द्वारका शवदाह गृह-2-0-1-5-2-0-1-3-3-0-2

सराय काले खां-कोई नहीं

आइटीओ कब्रिस्तान-1-1-2-1-1-4-2-0-0-0-0

कुल-11-9-9-19-10-12-15-19-14-22-23-163

पूर्वी दिल्ली नगर निगम

स्थान- पुष्ट- संदिग्ध

शाहदरा दक्षिणी क्षेत्र-16-6-22

शाहदरा उत्तरी क्षेत्र-47-8-55

कुल-63-14-77

नोट: एक अप्रैल से 12 अप्रैल 2021 तक

अप्रैल में हुई मौत

दिनांक- मौत

1-9

2-14

3-10

4-21

5-15

6-17

7-20

8-24

9-39

10-39

11-48

12-72

कुल-328

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.