कांग्रेस की लीडरशिप में बाबा साहेब ने दलितों को आरक्षण और बराबरी का अधिकार दिलाया: जयकिशन

डा. अंबेडकर धैर्यवान व्यक्तित्व बुद्धिमत्ता विद्वान समाजसेवी ईमानदारी सच्चाई नियमितता दृढ़ता और अद्वितीय प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने 80 प्रतिशत दलित जो सामाजिक और आर्थिक तौर पर कमजोर थे के जीवन से सामाजिक और भेदभाव की संर्कीणताओं को खत्म करने का संकल्प लिया था।

Pradeep ChauhanTue, 07 Dec 2021 07:40 AM (IST)
भारत रत्न डा. भीमराव अंबेडकर के 65 वें महापरिनिर्वाण दिवस।

नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने भारत रत्न डा. भीमराव अंबेडकर के 65 वें महापरिनिर्वाण दिवस पर प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में उनकी तस्वीर पर पुष्पाजंलि अर्पित की। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष जय किशन, पूर्व विधायक अमरीश गौतम, वीर सिंह धींगान, दर्शना रामकुमार, निगम पार्षद रिंकू, सीमा ताहिरा, पूर्व निगम पार्षद मीर सिंह, जिला अध्यक्ष सतबीर शर्मा और मिर्जा जावेद अली सहित और भी अनेक नेता- कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

चौधरी ने कहा कि डा. अंबेडकर धैर्यवान व्यक्तित्व, बुद्धिमत्ता, विद्वान, समाजसेवी, ईमानदारी, सच्चाई, नियमितता, दृढ़ता और अद्वितीय प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने 80 प्रतिशत दलित जो सामाजिक और आर्थिक तौर पर कमजोर थे, के जीवन से सामाजिक और भेदभाव की संर्कीणताओं को खत्म करने का संकल्प लिया था। उन्होंने अपना पूरा जीवन समग्र भारत में शिक्षा के विकास और दलितों के उत्थान के लिए समर्पित कर दिया। जयकिशन ने कहा कि देश डा. अंबेडकर के योगदान, उनकी कार्यशैली, उनके संघर्ष को कभी भी भुला नहीं पाएगा।

कांग्रेस की लीडरशिप में बाबा साहेब ने ही दलितों को आरक्षण और बराबरी का अधिकार दिलवाया। जयकिशन ने अगर मगर करने वाले गैर कांग्रेसी दलों को आडे हाथों लेते हुए कहा कि हवा में तीर मारने से कभी शिकार नहीं किए जा सकते है। देश को जोड़ने के बजाए ये दल अपने राजनीतिक फायदे के लिए देश को सांप्रदायिकता की आग में झोंक रहे है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने बाबा साहेब का हमेशा सम्मान किया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.