सराय काले खां में जलती बीड़ी फेंकने से केले के गोदाम में लगी आग, हादसे में तीन लोग झुलसे

सराय काले खां इलाके में बुधवार देर रात में जलती बीड़ी फेंकने के कारण केले के गोदाम में आग लग गई। हादसे में तीन लोग झुलस गए। मामले की सूचना मिलने के बाद दमकल और स्थानीय पुलिस की टीम मौके पर पहुंची।

Pradeep ChauhanThu, 25 Nov 2021 07:13 PM (IST)
घायलों को गोदाम से निकाल कर सफदरजंग अस्पताल पहुंचाया।

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। सराय काले खां इलाके में बुधवार देर रात में जलती बीड़ी फेंकने के कारण केले के गोदाम में आग लग गई। हादसे में तीन लोग झुलस गए। मामले की सूचना मिलने के बाद दमकल और स्थानीय पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। घायलों को गोदाम से निकाल कर सफदरजंग अस्पताल पहुंचाया, जहां उनका इलाज चल रहा है। उधर, दमकल की तीन गाडि़यों ने 40 मिनट की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। दमकल के अधिकारी ने बताया कि बुधवार रात 1.35 बजे दमकल व पुलिस को आग लगने की सूचना मिली थी। इसके बाद दमकल की तीन गाडि़यों को मौके पर भेजा गया।

दमकल की टीम ने आग बुझाने का काम शुरू किया। इस दौरान दमकल की टीम ने गोदाम में तीन लोगों जफरुद्दीन, फजल और दिलशेख को झुलसी हालत में पाया। दमकल ने स्थानीय पुलिस और कैट्स की मदद से तीनों को सफदरजंग अस्पताल में भेज दिया, जहां उनका इलाज चल रहा है। दमकल ने 40 मिनट के बाद आग पर काबू पा लिया। उधर, स्थानीय पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की।

प्राथमिक जांच में सामने आया कि घटना में झुलसे जफरुद्दीन को बीड़ी पीने का आदत है और देर रात बीड़ी पीने के बाद उसने ही बची हुई बीड़ी फेंक दी थी। इसके चलते गोदाम में पड़े अखबार में आग लग गई और वह फैल गई। पुलिस ने फिलहाल मामले में केस दर्ज कर लिया है।  वहीं, राजौरी गार्डन थाना क्षेत्र में एक शादी समारोह में खुलेआम लघुशंका करने का विरोध करने पर विवाद हो गया। इसके बाद आरोपित युवक ने साथी के साथ मिलकर उस युवक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी, जिसने विरोध किया था।

जानकारी के अनुसार 17 नवंबर को एक शादी समारोह के दौरान आरोपित युवक खुलेआम भीड़ में लघुशंका कर रहा था। हेमंत व उनके दोस्त निखिल ने इसका विरोध किया था। इसी बात पर आरोपित से इनका झगड़ा हो गया था। बुधवार सुबह उसका बदला लेने के इरादे से आरोपित ने हेमंत की चाकू से कई वार कर हत्या कर दी। बुधवार शाम को एक आरोपित को पुलिस ने हिरासत में लिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर उसके साथियों की तलाश कर रही है। पुलिस घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी की मदद से मामले की जांच कर रही है।

पुलिस के मुताबिक हेमंत सी-ब्लाक, टैगोर गार्डन, राजौरी गार्डन में रहते थे। इनके परिवार में पिता विनोद कुमार, मां और एक छोटा भाई है। हेमंत के पिता विनोद आजादपुर मंडी में काम करते हैं जबकि वह खुद फूड डिलीवरी एप आधारित डिलीवरी ब्वाय थे। बुधवार तड़के करीब साढ़े चार बजे वे घर पहुंचे। कुछ ही देर बाद हेमंत के दोस्त निखिल ने काल कर उन्हें चाय पीने की बात कहकर बुलाया।

आरोप है कि चाय की दुकान पर अचानक दो युवक पहुंच गए। ये वही युवक थे, जिनसे शादी समारोह में हेमंत की कहासुनी हुई थी। वहां आरोपितों से झगड़े के दौरान निखिल तो वहां से भाग गया, पर आरोपितों ने हेमंत पर हमला कर दिया। वारदात के बाद आरोपित भाग गए। हेमंत को अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.