वर्क फ्राम होम के नाम पर नौकरी देकर ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा, जानिए कैसे करते थे बेरोजगार युवाओं से ठगी

ऐसा काम एक दिन में करने के लिए देते थे जिसे पूरा कर पाना संभव नहीं होता। जब पीड़ित काम पूरा नहीं कर पाता तो उनसे कंपनी को हुए नुकसान की भरपाई के नाम पर 60 से 70 हजार रुपये ठगे जाते थे।

Vinay Kumar TiwariMon, 29 Nov 2021 01:25 PM (IST)
देशभर में एक हजार से अधिक लोगों के साथ ठगी करने का अंदेशा।

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली पुलिस साइबर सेल ने वर्क फ्राम होम पर नौकरी देकर ठगी करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने मामले में युवती समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपित मोहन गार्डन के रहने वाले रोहित कुमार, मोहित कुमार व तरुण कुमार से हुई पूछताछ में पता चला है कि गिरोह पहले बेरोजगार युवाओं को 20 से 30 हजार रुपये मासिक वेतन पर वर्क फ्राम होम पर नौकरी पर रखता था। ऐसा काम एक दिन में करने के लिए देते थे जिसे पूरा कर पाना संभव नहीं होता। जब पीड़ित काम पूरा नहीं कर पाता तो उनसे कंपनी को हुए नुकसान की भरपाई के नाम पर 60 से 70 हजार रुपये ठगे जाते थे।

अभी तक की जांच में पता चला कि आरोपित देशभर में एक हजार से अधिक लोगों के साथ ठगी का शिकार बना चुके हैं। साइबर सेल के उपायुक्त केपीएस मल्होत्रा ने बताया कि देशभर में करीब 60 शिकायतें मिली, जिसमें वर्क फ्राम होम के नाम पर नौकरी देकर ठगी की गई थी। जांच के क्रम में पता चला कि आरोपितों ने कई फर्जी वेबसाइट बनाई हुई हैं। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए एसीपी रमन लांबा की देखरेख में इंस्पेक्टर सज्जन सिंह, हंसराज स्वामी, एसआइ विक्रम सिंह और धमेंद्र समेत अन्य पुलिस कर्मियों की टीम का गठन कर आरोपितों को गिरफ्तार किया गया।

अदालत में केस करने की देते थे धमकी

गिरोह के सरगना रोहित कुमार ने फर्जी वेबसाइटें बनाई थी। इसके बाद उन्होंने बेरोजगारों लोगों से संपर्क कर नौकरी पर रखा। काम पूरा नहीं करने पर अदालती मामलों में घसीटने की धमकी देकर पैसे ठग रहे थे। अधिकारी के अनुसार, आरोपितों ने पीडि़तों से एक पत्र में हस्ताक्षर भी करवाया था। जिसमें लिखा था कि अगर तय समय में कार्य पूरा नहीं कर पाते तो उन पर जुर्माना लगाया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.