अवैध संबंध में होने वाली घटनाओं में दिल्ली अव्वल, पढ़िए- NCRB के कई और चौंकाने वाले खुलासे

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। देश की राजधानी दिल्ली पर अपराधों की राजधानी होने का कलंक अब भी लगा हुआ है। आए दिन हत्या, लूटपाट, गैंगवार, दुष्कर्म और महिलाओं से छेड़छाड़ जैसे संगीन अपराधों के मामले में दिल्ली देश में सबसे आगे बनी हुई है। जघन्य अपराधों के मामले में दिल्ली के हालात देश के कई शहरों की तुलना बेहद खौफनाक नजर आते हैं।

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (National Crime Records Bureau) के वर्ष 2017 के आंकड़ों के मुताबिक, राजधानी दिल्ली में देश के अन्य राज्यों के मुकाबले हत्या, लूटपाट व डकैती जैसी वारदात ज्यादा हुई। वहीं, महिलाओं से छेड़छाड़ और दुष्कर्म की घटनाओं की संख्या भी काफी रही। इसी दौरान दिल्ली में रोड रेज और गैंगवार के भी मामले भी अच्छी खासी तादाद में सामने आए। राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो द्वारा 2017 के आंकड़े सोमवार रात जारी किए।

आंकड़ों के मुताबिक इस वर्ष में देशभर में सबसे ज्यादा 310084 आपराधिक मामले उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए। वहीं दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र में 288879, तीसरे नंबर पर मध्य प्रदेश में 269512, चौथे स्थान पर केरल में 235846 और पांचवें स्थान पर दिल्ली में 232066 आपराधिक मुकदमे दर्ज किए गए।

इस दौरान हत्या के सर्वाधिक 25 मामले दिल्ली में दर्ज किए गए। डकैती और लूटपाट के मामले भी सबसे अधिक 16 दिल्ली में सामने आए। महिलाओं के साथ होने वाले अपराध सबसे अधिक पटना में 25 दर्ज किए गए। दूसरे स्थान पर दिल्ली में 14 मामले दर्ज किए गए। अवैध संबंध में होने वाली घटनाएं भी सबसे अधिक राजधानी में रिपोर्ट की गईं। यहां 29 मामले दर्ज किए गए। 14 मामलों के साथ मध्य प्रदेश दूसरे स्थान पर रहा। महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की घटनाओं के मामले में ओडिशा 5220 मामलों के साथ सबसे ऊपर है और केंद्र शासित राज्यों में दिल्ली में 1124 घटनाओं के साथ सबसे ऊपर है।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ें बस एक क्लिक पर

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.