क्या नवजोत सिंह सिद्धू हो सकते हैं AAP में शामिल? पढ़िये- अरविंद केजरीवाल का ताजा बयान

एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में पूछे जाने पर कि क्या अभी भी आप को उम्मीद है कि नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी में आ रहे हैं? इस सवाल के जवाब में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर वो अच्छे काम करते हैं लेकिन...।

Jp YadavSat, 04 Dec 2021 08:08 AM (IST)
क्या नवजोत सिंह सिद्धू हो सकते हैं AAP में शामिल? पढ़िये- अरविंद केजरीवाल का ताजा बयान

नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू पर एक तरफ जहां राघव चड्ढा के तेवर तल्ख देखने को मिलते हैं तो वहीं दूसरी ओर अरविंद केजरीवाल कई बार नरम दिखाई देते हैं। एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में पूछे जाने पर कि क्या अभी भी आप को उम्मीद है कि नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी में आ रहे हैं? इस सवाल के जवाब में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर वो अच्छे काम करते हैं तो हम उनकी तारीफ करते हैं और वो अगर कुछ गलत बात करते हैं तो हम उस पर अपनी बात रखते हैं। नवजोत सिंह सिद्धू विपक्ष में हैं वो हमारी पार्टी में नहीं आ रहे हैं। इसके साथ ही पंजाब में सीएम चेहरे को लेकर केजरीवाल ने कहा कि इस पर विचार किया जा रहा है। जल्द ही इस बारे में घोषणा की जाएगी। जब उनसे पूछा गया कि क्या वो खुद पंजाब जा सकते हैं तो उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली का बेटा हूं, दिल्ली का भाई हूं, मैं यहीं रहूंगा, इसे छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा।

इसके साथ ही अरविंद केजरीवाल ने सीएम चन्नी पर निशाना साधते हुए कहा कि कैप्टन के बाद पंजाब में चन्नी साहब ने भी आकर कोई नया काम नहीं किया है। वहां वो सिर्फ ऐलान ही एलान कर रहे हैं। उन्होंने दिल्ली के मुफ्त बिजली माडल की बात तो कर दी लेकिन एक भी आदमी का फ्री बिल नहीं आया। पंजाब की जनता सब देख रही है, वो दिल्ली का विकास देख रही है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस बार पंजाब में आप की सरकार आ रही है। केजरीवाल ने कहा पंजाब को ईमानदार राजनेता और ईमानदार राजनीति चाहिए है। वह आम आदमी पार्टी ही दे सकती है।

केजरीवाल ने कहा कि पूरा पंजाब ही हमारा है। अमरिंदर सिंह के जाने से क्या आप को फायदा हुआ है? इस सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि कांग्रेस ने जो वादे किए थे, उनमें से कुछ नहीं किया है। अमरिंदर सिंह भी कुछ कर नहीं पाए, अब चरणजीत सिंह चन्नी आए हैं। वह वादे पर वादे तो कर रहे हैं, लेकिन कुछ कर नहीं पा रहे हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि तीर्थ यात्रियों को विदा करने के लिए दिल्ली सरकार ने स्टेशन पर कार्यक्रम रखा था। केंद्र सरकार ने कार्यक्रम करने देने से मना कर दिया। मीडिया को भी तीर्थ यात्रियों से बात नहीं करने दी। उन्होंने कहा, मैं केंद्र सरकार से कहना चाहता हूं कि इस किस्म का व्यवहार सही नहीं है। बुढ़ापे में अगर किसी को तीर्थ यात्र करने का मौका मिल जाए, तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहता है। खैर भगवान आपका भला करें।’ वहीं दिल्ली सरकार द्वारा लगाए गए इस आरोप के बाबत रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने कहा है कि संरक्षा और परिचालन को ध्यान में रखकर प्लेटफार्म पर स्टेज बनाकर कार्यक्रम और भीड़ इकट्ठी करने की इजाजत किसी को नहीं दी जाती है। उन्होंने कहा कि रेलवे के भी कार्यक्रम होते हैं तो रेलवे प्लेटफार्म से बाहर होते हैं। उन्होंने कहा कि यह कहना गलत है कि लोगों को प्लेटफार्म पर आने की इजाजत नहीं दी गई।

‘जो बोलता हूं, वह करता हूं’

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं जो भी बोलता हूं, वह करता हूं। हमने महिलाओं को एक हजार रुपये देने की बात कही है, यह कुल मिलाकर दुनिया का सबसे बड़ा महिला सशक्तीकरण का प्रोगाम होगा। जैसे दिल्ली में विकास हुआ है, वैसा ही विकास हर जगह होगा। केजरीवाल ने कहा कि हर महिला को हजार रुपये महीना देने पर कितन बड़ा महिला सशक्तीकरण होगा इसका अंदाजा भी लगाना मुश्किल है। कितनी ही छात्रएं होंगी जिनकी फीस नहीं अटकेगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.