पुलिस ने जनसंपर्क अभियान से लोगों को किया जागरूक, केक काटकर मनाया बुजुर्गों का जन्मदिन

पुलिस ने जनसंपर्क अभियान से लोगों को किया जागरूक

जनसंपर्क अभियान के दौरान बुजुर्गों के बीच जाकर पुलिसकर्मियों द्वारा केक काटकर उनका जन्मदिन भी मनाया गया। साथ ही मौके पर ही पुलिस द्वारा 4714 किरायाएदार-नौकर सत्यापन फार्मों का सत्यापन किया गया। वहीं 8141 लोगों ने दिल्ली पुलिस एप डाउनलोड किया।

Prateek KumarWed, 24 Feb 2021 06:45 AM (IST)

नई दिल्ली [राहुल चौहान]। दिल्ली पुलिस सप्ताह के अतंर्गत 16 से 22 फरवरी के बीच पुलिस द्वारा विभिन्न कार्याक्रमों का आयोजन किया गया। इस दौरान दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के स्थानीय लोगों और समुदायों के साथ एक गतिशील और जीवंत संपर्क बनाने के लिए पहली बार पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव के विजन के तहत जन संपर्क अभियान शुरू किया।

इस बीच वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी लोगों के बीच पहुंचे। इस अभियान का उद्देश्य पुलिस-जनसंपर्क को मजबूत करना और दिल्ली के नागरिकों के लिए दिल्ली पुलिस द्वारा प्रदान की जाने वाली विभिन्न सेवाओं, मोबाइल एप्लिकेशन, हेल्पलाइन नंबर और अन्य सुविधाओं के बारे में लोगों को जागरूक करना है। इसके लिए नौ जनसंपर्क वाहनों को पुलिस स्थापना दिवस के दिन केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने पुलिस आयुक्त की उपस्थिति में रवाना किया। दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी चिन्मय बिश्वाल ने बताया कि पुलिस सप्ताह के बीच ये सभी वाहन दिल्ली के 100 से भी ज्यादा जगहों पर लोगों के बीच गए।

पूरे सप्ताह के दौरान जनसंपर्क वाहनों द्वारा 900 घंटे में छह हजार किलोमीटर की दूरी तय की गई। वहीं, इन पर तैनात पुलिसकर्मियों ने लोगों को पुलिस द्वारा जनता के लिए किए जा रहे कार्यों के बारे में जागरूक किया। साथ ही लोगों के साथ बेहतर तालमेल के लिए इलाके में जाकर कई सामाजिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया गया। इनमें खेलकूद, शिक्षा, बुजुर्गों से मिलना, संगीत, नाटक, नृत्य, पेंटिंग और नुक्कड़ नाटक आदि कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

वहीं, बुजुर्गों के बीच जाकर पुलिसकर्मियों द्वारा केक काटकर उनका जन्मदिन भी मनाया गया। साथ ही मौके पर ही पुलिस द्वारा 4714 किरायाएदार-नौकर सत्यापन फार्मों का सत्यापन किया गया। वहीं, 8141 लोगों ने दिल्ली पुलिस एप डाउनलोड किया। साथ ही पुलिस द्वारा 633 वरिष्ठ नागरिकों का पंजीकरण किया गया। इस बीच जनसंपर्क में शूटर समरेश जंग, कवि सुरेंद्र शर्मा और अनुजा जंग जैसी जानी मानी हस्तियों ने भी लोगों को जागरूक किया।

इस बीच विभिन्न कार्यक्रमों में 50 हजार लोगों ने भाग लिया। साथ ही कार्यक्रमों अच्छा प्रदर्शन करने वाले बच्चों को पुलिस अधिकारियों द्वारा सम्मानित किया गया। साथ ही 1160 से ज्यादा लड़कियों ने सशक्ति कार्यक्रम के लिए पंजीकरण कराया। इन्हें पुलिस द्वारा नि:शुल्क आत्मरक्षा के गुर सिखाए जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.