दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Delhi E-Scooter Scheme: ई-स्कूटर योजना के लिए दिल्ली के लोगों को करना होगा अभी इंतजार

लास्ट माइल कनेक्टिविटी को सुगम बनाने के लिए 50 ई-स्कूटर बनाने का ऐलान वर्ष 2019 में किया था।

Delhi E-Scooter Scheme बताया जा रहा है कि नई दिल्ली नगरपालिका परिषद ( New Delhi Municipal Council) ने फिर से इस योजना को शुरू करने की योजना भी बनाई तो छह से आठ माह का समय लग सकता है।

JP YadavFri, 15 Jan 2021 01:01 PM (IST)

नई दिल्ली [निहाल सिंह]। Delhi E-Scooter Scheme:  पर्यावरण संरक्षण के लिए नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) की ई-स्कूटर योजना अधर में लटक गई है। एक निजी कंपनी को इस संबंध में निविदा प्रक्रिया के माध्यम से कार्यादेश दिए गए थे, लेकिन कंपनी ने कार्य करने से मना कर दिया है। इसके बाद अब यह योजना कब शुरू होगी, इसका कोई पता नहीं है। हालांकि यह योजना फिलहाल शुरू नहीं होगी। अगर, एनडीएमसी ने फिर से इस योजना को शुरू करने की योजना भी बनाई तो छह से आठ माह का समय लग सकता है।

उल्लेखनीय एनडीएमसी ने लास्ट माइल कनेक्टिविटी को सुगम बनाने के लिए 50 ई-स्कूटर बनाने का ऐलान वर्ष 2019 में किया था। इसके बाद एनडीएमसी ने निविदा प्रक्रिया के माध्यम से एक निजी कंपनी को इसका कार्य दिया तो कंपनी ने अब इसके कार्य से हाथ खड़े कर लिया है।

योजना के मुताबिक 50 स्टेशन पर बिजली से चलने वाले स्कूटर उपलब्ध कराए जाने थे। प्रत्येक स्टेशन पर 10 ई स्कूटर उपलब्ध कराए जाने थे। नागरिक इन स्कूटर का उपयोग एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए कर सकते थे।

एनडीएमसी के चेयरमैन धर्मेंद्र ने कहा कि कंपनी ने कार्य करने से हाथ खड़े कर लिए हैं। इसलिए हम दूसरे विकल्पों पर कार्य कर रहे हैं।स्मार्ट रोड पर होंगे ई-स्कूटर स्टेशनभले ही एनडीएमसी की ई-स्कूटर योजना फिलहाल सिरे नहीं चढ़ पाई हो, लेकिन एनडीएमसी की ओर से बनाई जा रही स्मार्ट सड़कों पर ई-स्कूटर स्टेशन भी होंगे। इसके लिए एनडीएमसी गंभीरता से कार्य कर रहा है।

एनडीएमसी के अधिकारी ने बताया कि आने वाला समय इलेक्टि्रक वाहनों का होगा। ऐसे में स्वच्छ ईधन और पर्यावरण संरक्षण के लिए ई-स्कूटर स्टेशन के लिए स्मार्ट सड़कों पर स्थान चिन्हित किए जाएंगे। चूंकि इन सड़कों पर कैफे और रेस्तरां जैसी सुविधा होगी। इसलिए एनडीएमसी की कोशिश स्टेशन के माध्यम से लोगों को उपयोग के लिए आकर्षित करना होगा।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.