Omicron Variant: दिल्ली एयरपोर्ट पर रोजाना किए जा रहे 2000 से ज्यादा कोरोना के टेस्ट

Omicron Guidelines दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव ने जारी आदेश में यूरोप व दक्षिण अफ्रीका सहित 12 देशों के यात्रियों के दिल्ली पहुंचने पर उनके तुरंत कोरोना जांच व कोरोना पाजिटिव पाए जाने पर जिनोम टेस्ट कराने का आदेश जारी किया है।

Jp YadavWed, 01 Dec 2021 07:09 AM (IST)
Omicron Guidelines: इन 12 देशों से आने वाले यात्रियों को दिल्ली एयरपोर्ट पर करानी होगी कोरोना जांच

नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के चलते दुनियाभर में खौफ का माहौल बन गया है। विदेशी यात्रियों के आगमन पर दिल्ली एयरपोर्ट पर आरटीपीसीआर टेस्ट किया जा रहा है। इस बात डा. गौरी अग्रवाल संस्थापक (जेनस्ट्रिंग्स डायग्नोस्टिक्स) का कहना है कि हम लंदन और एम्स्टर्डम के 4 यात्रियों के जीनोम अनुक्रमण परिणामों की प्रतीक्षा कर रहे हैं, जो बुधवार को दिल्ली हवाई अड्डे पर पहुंचे हैं। दो दिनों की अवधि में 5 रोगियों ने सकारात्मक परीक्षण किया है। हम दिल्ली एयरपोर्ट के आगमन पर प्रतिदिन लगभग 2000 परीक्षण चला रहे हैं।

इस बीच ब्रिटेन समेत कई देशों में ओमिक्रोन वायरस से मामलों के मिलने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस पर सख्ती और चेतावनी के साथ संशोधित गाइडलाइन जारी की है। इसके तहत वैक्सीनेशन के बावजूद कई जोखिम वाले देशों से भारत आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों को एयपोर्ट पर पहुंचने के बाद कोरोना टेस्ट अनिवार्य होगा। इस बीच दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव ने मंगलवार को आदेश जारी कर यूरोप व दक्षिण अफ्रीका सहित 12 देशों के यात्रियों के दिल्ली पहुंचने पर उनके तुरंत कोरोना जांच व कोरोना पाजिटिव पाए जाने पर जिनोम टेस्ट कराने का आदेश जारी किया है। यह आदेश यूनाइटेड किंगडम, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मारीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्बे, सिंगापुर, हांगकांग व इजरायल से दिल्ली आने वाले यात्रियों पर लागू किया गया है।

बताया जा रहा है कि इस आदेश के अनुसार इन देशों से दिल्ली पहुंचने पर हवाई अड्डे पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। अगर किसी यात्री में हल्के लक्षण पाए जाएंगे तो उन्हें मेडिकल जांच के लिए भेजा जाएगा। किसी यात्री के कोरोना पाजिटिव पाए जाने पर उनके सभी संपर्क में आए सभी लोगों को चिन्हित कर जांच शुरू की जाएगी। सभी यात्रियों के दिल्ली पहुंचने पर कोरोना जांच की जाएगी और जांच कार्य परिणाम आने तक उन्हें दिल्ली हवाई अड्डे पर इंतजार करना होगा। जांच रिपोर्ट सही आने पर ही वे हवाई अड्डे से बाहर आ सकेंगे या दूसरी फ्लाइट ले सकेंगे।

वहीं, दिल्ली पहुंचने वाले यात्री अगर कोरोना नेगेटिव पाए जाते हैं तो उन्हें सात दिन होम क्वारेंटाइन रहना पड़ेगा। आठवें दिन उनकी पुन: जांच की जाएगी, फिर नेगेटिव आने पर अगले सात दिनों तक उन्हें स्वयं अपने स्वास्थ्य की निगरानी करने को कहा जाएगा। किसी भी यात्री के कोरोना पाजिटिव पाए जाने पर उनका जिनोम टेस्ट किया जाएगा व उन्हें अलग आइसोलेशन सुविधा में रखा जाएगा।

इस आदेश में कहा गया है कि 12 देशों को छोड़कर अन्य देशों से दिल्ली पहुंचने वाले यात्री को एयरपोर्ट से बाहर जाने दिया जाएगा, लेकिन उन्हें अगले 14 दिनों तक अपने स्वास्थ्य की निगरानी करनी होगी। हालांकि इनमें से कुछ यात्रियों की जांच भी एयरपोर्ट पर की जाएगी। इस आदेश में कहा गया है कि दिल्ली से विदेश जाने वाले यात्रियों को आनलाइन एयर सुविधा पोर्टल पर अपनी नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट अपलोड करनी होगी। यह रिपोर्ट 72 घंटे के भीतर कराई जांच का ही मान्य होगी। प्रत्येक यात्री को फार्म भरकर यह बताना होगा कि अगर उन्होंने गलत रिपोर्ट जमा की है तो वे दंड के भागी होंगे। दिल्ली के यात्री अगर चिन्हित 12 देशों की यात्रा कर रहे हैं तो वापस आने पर उन्हें कोरोना की जांच कराई होगी। कोरोना से बचाव संबंधी जानकारी एयरपोर्ट पर और फ्लाइट के भीतर भी दी जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.