दिल्ली-NCR में ऑक्सीजन की इमरजेंसी, नोएडा में पांच मिनट बिना ऑक्सीजन छटपटाते रहे मरीज, फरीदाबाद में ब्लैक

दिल्ली के कई अस्पतालों में मात्र कुछ ही घंटे का आक्सीजन बचा है।

Oxygen Shortage in Delhi डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि ऑक्सीजन को लेकर दो तरह की समस्याएं आ रही हैं। पहली समस्या है कि दिल्ली को जितनी ऑक्सीजन मिल रही है वह बहुत कम है। इस समय आक्सीजन की जरूरत बहुत बढ़ गई है।

Prateek KumarWed, 21 Apr 2021 06:21 PM (IST)

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। Oxygen Shortage in Delhi: देश में कोरोना के मरीज बढ़ते ही ऑक्सीजन की कमी हो गई है। कमोबेश हर राज्यों से ऑक्सीजन की कमी की खबरें मिल रही है। देश की राजधानी भी इससे अछूता नहीं है। दिल्ली-एनसीआर के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी लगातार बनी हुई है। हर दूसरे दिन दिल्ली के सीएम, डिप्टी सीएम एवं स्वास्थ्य मंत्री ट्वीट कर बता रहे हैं कि दिल्ली के कई अस्पतालों में मात्र कुछ ही घंटे का आक्सीजन बचा है। आइए जानते हैं दिल्ली-एनसीआर के अस्पतालों का हाल।

ऑक्सीजन को लेकर दो तरह की समस्याएं

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि ऑक्सीजन को लेकर दो तरह की समस्याएं आ रही हैं। पहली समस्या है कि दिल्ली को जितनी ऑक्सीजन मिल रही है, वह बहुत कम है। इस समय आक्सीजन की जरूरत बहुत बढ़ गई है। हमने केंद्र से मांग की है कि दिल्ली का अभी का 378 मीट्रिक टन का कोटा है जिसे 700 मीट्रिक ट्रन कर दिया जाए। दिल्ली के अस्पतालों में कोरोना के 18000 मरीज भर्ती हैं। ये मरीज दिल्ली के अलावा दूसरे राज्यों के भी हैं। यह केवल दिल्ली का मामला नहीं है। यह देश का मामला है कि काेरोना मरीजों को ऑक्सीजन दी जाए।

नोएडा में पांच मिनट बिना ऑक्सीजन छटपटाते रहे मरीज  (Noida Oxygen Crisis)

नोएडा के सेक्टर-39 स्थित कोविड अस्पताल में 5 बजे के करीब ऑक्सीजन आपूर्ति बाधित हो गई। आॅक्सीजन के अभाव में पांच मिनट तक मरीज झटपटाते रहे। अस्पताल में ऑक्सीजन बिस्तरों फिलहाज 140 संक्रमित पर भर्ती हैं। आनन-फानन में चिकित्सकों ने आक्सीजन का इंतजाम कराकर दोबार आपूर्ति सुचारू की। बता दें कि अस्पताल में 12 घंटे के अंदर दो बार आक्सीजन की आपूर्ति बाधित हुई थी। जिला प्रशासन के अनुसार, संक्रमितों की संख्या को देखते हुए जिले में प्रतिदिन 60 मीट्रिक टन आक्सीजन की जरूरत है, लेकिन जिले को सिर्फ 30 मीट्रिक टन ही मिल पा रही है।

फरीदाबाद का हाल- तीन हजार का ऑक्सीजन 15 हजार में बिक रहा (Faridabad Oxygen Crisis)

फरीदाबाद जिले में ऑक्सीजन सिलेंडर की  कालाबाजारी जोरों पर हैं। 10 लीटर का ऑक्सीजन सिलेंडर इन दिनों 10 से 15 हजार रुपये तक बिक रहा है, जबकि इसकी असली कीमत तीन हजार रुपये तक होती है। इसके अलावा कई लोगाें ने पहले से ही ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदकर रख लिए हैं। इससे बाजार में खाली सिलेंडर उपलब्ध नहीं हो पा रहे है। इस वजह से भी ऑक्सीजन की समस्या खड़ी हो गई है। जिला औषध निरीक्षक संदीप गहलान ने बताया कि हमारे यहां ऑक्सीजन की कमी नहीं है। स्वास्थ्य विभाग के पास स्टाक में 60 के करीब ऑक्सीजन सिलेंडर है। बाजार में खाली सिलेंडर नहीं है। इसके चलते आपूर्ति में परेशानी आ रही है। 

सेंट स्टीफंस अस्पताल (Acute oxygen shortage in Delhi's St Stephen's Hospital)

दिल्ली के सेंट स्टीफंस अस्पताल ने बताया कि ऑक्सीजन की भारी किल्लत है। यहां महज दो घंटे का ही ऑक्सीजन बचा है। यहां कोरोना के 300 मरीज भर्ती हैं। यहां पर सप्लाई करने वाली कंपनी कंपनी लिंडे फरीदाबाद ने ऑक्सीजन देने से मना कर दिया है।

ये भी पढ़ेंः दिल्ली को रोजाना 700 टन आक्सीजन चाहिए, संकट की घड़ी में करें मददः केजरीवाल

इन अस्पतालों में है ऑक्सीजन किल्लत

मैक्स पूर्वी दिल्ली- यहां करीब 185 मरीज भर्ती हैं मैक्स साकेत- यहां पर 235 मरीज भर्ती हैं मैक्स पटपड़गंज- 262 मरीजों का चल रहा इलाज मैक्स शालीमार - 285 मरीज मैक्स वैशाली- 170 मरीज

 ये भी पढ़ेंः नोएडा व ग्रेटर नोएडा के कोविड अस्पतालों में आक्सीजन की भारी किल्लत, कुछ घंटे का बचा स्टाक

 

ये भी पढ़ेंः कोरोना के सामने आए ये नए लक्षण, अगर है तो तुरंत कराएं जांच, लापरवाही पड़ सकती है भारी

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.