अब दिल्ली में इन दो और पार्कों में कबाड़ का बेहतर उपयोग कर बनाई जाएगी आजादी से जुड़े आंदोलन की प्रतिकृति, जानिए अन्य जानकारी

यह पूरा कार्य वेस्ट टू आर्ट प्रोजेक्ट यानी कबाड़ से बनाया जाएगा। इसी तरह हाल ही में दक्षिणी निगम को दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) से जंगपुरा में आठ एकड़ का पार्क मिला है। इस पार्क को निगम वेस्ट टू आर्ट प्रोजेक्ट के तहत ही बालीवुड पार्क में विकसित करेगा।

Vinay Kumar TiwariTue, 30 Nov 2021 12:36 PM (IST)
बहादुर शाह जफर मार्ग स्थित शहीदी पार्क, जहां पर कबाड़ से बनी प्रतिकृतियों से दर्शाया जाएगा। जागरण

नई दिल्ली [निहाल सिंह]। कबाड़ का बेहतर उपयोग कर मिसाल कायम कर चुका दक्षिणी दिल्ली नगर निगम वेस्ट टू आर्ट प्रोजेक्ट के तहत आइटीओ और जंगपुरा में दो और पार्क बनाएगा। आइटीओ के पास शहीदी पार्क में बनने वाले पार्क में कबाड़ से बनी प्रतिकृति से आजादी से जुड़े आंदोलन को प्रदर्शित किया जाएगा तो जंगपुरा में बालीवुड पार्क बनाया जाएगा। इस पार्क में आजादी के बाद से सिनेमा के विकास को प्रदर्शित किया जाएगा। हालांकि, दोनों प्रोजेक्ट प्रारंभिक चरण में हैं। अभी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार हो रही है। इसमें शामिल होने वाली चीजों पर फैसला लिया जाएगा।

आइटीओ के बहादुरशाह जफर मार्ग पर शहीदी पार्क है। यहां पर पहले से ही शहीद भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव की प्रतिमा लगी है। नौ अगस्त 1998 को बतौर नेता प्रतिपक्ष अटल बिहारी वाजपेयी ने इस पार्क का उद्घाटन किया था। हर वर्ष नौ अगस्त को यहां पर भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ मनाई जाती है। निगम की योजना है कि यहां पर आजादी के लिए हुए विभिन्न आंदोलनों और घटनाक्रमों को प्रदर्शित किया जाए।

यह पूरा कार्य वेस्ट टू आर्ट प्रोजेक्ट यानी कबाड़ से बनाया जाएगा। इसी तरह हाल ही में दक्षिणी निगम को दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) से जंगपुरा में आठ एकड़ का पार्क मिला है। इस पार्क को निगम वेस्ट टू आर्ट प्रोजेक्ट के तहत ही बालीवुड पार्क में विकसित करेगा। यहां पर सिनेमा का विकास और हर दशक के प्रसिद्ध कलाकारों की प्रतिकृति भी कबाड़ से बनाई जाएगी।

सीएसआर फंड की तलाश

निगम बालीवुड पार्क को प्राइवेट पब्लिक पार्टनरशिप के तहत बनाएगा। इस पर 15 से 20 करोड़ का खर्च आने का अनुमान है। शहीदी पार्क के लिए निगम को सीएसआर फंड की तलाश है। इसमें भी 15 करोड़ का खर्चा आएगा।

जल्द ही होगा उद्घाटन

पंजाबी बाग में निगम की ओर से भारत दर्शन पार्क तैयार हो चुका है। निगम की कोशिश है कि इसका केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से उद्घाटन कराने की। इसके लिए निगम की ओर से आग्रह भेज दिया गया है। जल्द समय मिलने के बाद इसका उद्घाटन हो जाएगा। दक्षिणी निगम ने इससे पूर्व वेस्ट टू वंडर पार्क बनाया था। इसमें निगम का सात करोड़ का खर्च आया था। पार्क की लोकप्रियता इस कदर लोगों में बढ़ी थी कि एक साल में ही टिकट बेचकर पूरी राशि वसूल हो गई थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.