दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

निगम ने तीसरा कोविड अस्पताल जनता को किया समर्पित, कम गंभीर मरीजों को किया जाएगा दाखिल

उत्तरी दिल्ली नगर निगम का तीसरा कोविड केयर सेंटर शुरू हो गया है।

तिमारपुर स्थित बालकराम अस्पताल की निर्माणधीन इमारत में कोविड केयर सेंटर शुरू किया गया है। अभी फिलहाल यहां पर 100 बेड हैं। जिसमें 25 पर आक्सीजन की सुविधा है। निगम आने वाले समय में संसाधन जुटाकर आक्सीजन वाले बिस्तरों की संख्या बढ़ाएगा।

Prateek KumarSat, 08 May 2021 07:59 PM (IST)

नई दिल्ली [निहाल सिंह]। उत्तरी दिल्ली नगर निगम का तीसरा कोविड केयर सेंटर शुरू हो गया है। तिमारपुर स्थित बालकराम अस्पताल की निर्माणधीन इमारत में यह सेंटर शुरू किया गया है। अभी फिलहाल यहां पर 100 बेड हैं। जिसमें 25 पर आक्सीजन की सुविधा है। निगम आने वाले समय में संसाधन जुटाकर आक्सीजन वाले बिस्तरों की संख्या बढ़ाएगा। निगम ने अस्पताल में बनाए गए सेंटर को दीनदयाल उपाध्याय कोविड केयर नाम दिया है। फिलहाल यहां पर कम गंभीर मरीजों को ही रखा जाएगा। इनमें से किसी को दिक्कत होती हैं तो उन्हें नजदीकी अस्पताल या बाड़ा हिंदूराव अस्पताल में रेफर किया जाएगा।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता, महापौर जय प्रकाश और निगमायुक्त संजय गोयल की उपस्थिति में इस अस्पताल को जनता को समर्पित किया गया। इस मौके पर आदेश गुप्ता ने कहा कि सीमित संसाधनों में भी बालकराम अस्पताल में नागरिकों के लिए बेहतरीन सुविधा विकसित करने के लिए उत्तरी निगम बधाई का पात्र है। निगम इस संकट की घड़ी में नागरिकों की सेवा के लिए हर संभव कोशिश में जुटे हुए हैं

निर्माणधीन बालकराम अस्पताल की इमारत में तैयार किया कोविड केयर सेंटर

महापौर जयप्रकाश ने कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने मात्र 25 दिनों के भीतर तीसरा अस्पताल कोरोना मरीज़ों के उपचार के लिए शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि एक तरफ दिल्ली सरकार है जो आक्सीजन की कमी के कारण अपने अस्पतालों में बेड घटा रही है वहीं दूसरी ओर उत्तरी निगम बिना दिल्ली सरकार की सहायता के लिए अपने अस्पतालों में कोरोना के बेड बढ़ा रही है।

उन्होंने बताया कि हिंदू राव अस्पताल, आरबीआईपीएमटी अस्पताल और बालक राम अस्पताल में कुल 500 बेड कोरोना मरीज़ों के उपचार के लिए उपलब्ध हैं। निगमायुक्त संजय गोयल ने कहा कि निगम कई तरीकों से कोविड संक्रमण रोकने के लिए कार्य कर रही है। लगातार सैनिटाइजेशन और होम आइसोलेशन वाले मरीजों के घर से संक्रमित कूड़े को उठाया जा रहा है। ताकि यह कूड़ा डलाव पर न जाए। जिससे संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। सैनिटाइजेशन के 93 स्प्रिंकलर से सैनिटाइजेशन किया जा रहा है।

आक्सीजन आन व्हील सेवा

आक्सीजन वाले बिस्तरों की कमी से भी मरीजों को अस्पतालों में दाखिला नहीं मिल पा रहा है। इसको देखते हुए उत्तरी निगम और अन्नया फाउडेंशन ने आक्सीजन और व्हील सेवा शुरू की है। यह एक बस हैं जहां पर 10 मरीजों को एक समय में आक्सीजन देने की सुविधा है। यह निगम के बालकराम अस्पताल के बाहर तैनात होगी। ऐसे मरीज जिन्हें केवल आक्सीजन की जरुरत हैं उन्हें अस्थायी तौर पर यहां पर आक्सीजन दी जाएगी। जिससे मरीज का आक्सीजन स्तर को नियंत्रित किया जा सके। प्रदेश भाजपा के संगठन महामंत्री सिद्धार्थन और महापौर जय प्रकाश ने सिविक सेंटर से इसे हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर पूर्व प्रदेश भाजपा महामंत्री रविंद्र गुप्ता और अन्नया फाउडेंशन से शिल्पम राठौर आदि लोग मौजूद रहे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.