दिल्ली में कोई भी लाभार्थी मुफ्त राशन से नहीं रहेगा वंचित : इमरान हुसैन

Free Ration in Delhi इमरान हुसैन ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्ली में रहने वाले 72 लाख से अधिक पीडीएस धारकों और गैर-पीडीएस (बिना राशन कार्ड) को नियमित रूप से मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है।

Prateek KumarSat, 27 Nov 2021 10:22 PM (IST)
दिल्ली के खाद्य व नागरिक आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ने राशन डीलर के खिलाफ कार्रवाई करने के दिए निर्देश

नई दिल्ली [पुष्पेंद्र कुमार]। दिल्ली सरकार सभी लाभार्थियों को मुफ्त राशन देने के लिए प्रतिबद्ध है। दिल्ली में कोई भी राशन लाभार्थी मुफ्त राशन से वंचित नहीं रहेगा। यह बातें कृष्णा नगर विधानसभा क्षेत्र में शनिवार को खाद्य व नागरिक आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ने राशन की पांच दुकानों का औचक निरीक्षण करते हुए लोगों से कहीं। उन्होंने निरीक्षण में एक दुकान में पाया कि राशन लाभार्थी को मुफ्त राशन के बदले पिसा हुआ अनाज (आटा) दिया जा रहा है।

उन्होंने मामले को गंभीरता से लेते हुए आपूर्ति विभाग के अधिकारियों को राशन डीलर के स्टाक रजिस्टर को जब्त करने सहित राशन डीलर के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। खाद्य व नागरिक आपूर्ति मंत्री ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) के तहत राशन दुकान पर पाया कि राशन दुकान और आटा चक्की एक ही परिसर से संचालित हो रहे थे।

उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए खाद्य आपूर्ति विभाग को राशन विक्रेता के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए क्योंकि राशन दुकान के परिसर से आटा चक्की चलाना वर्जित है। अन्य दुकानों पर उन्होंने व्यक्तिगत रूप से राशन की दुकानों पर स्टोर किये गए राशन की गुणवत्ता और स्टाक की जांच की।

राशन की दुकानों में उपलब्ध राशन की गुणवत्ता व तौल को सही पाया और राशन दुकानदारों को लाभार्थियों को अच्छी गुणवत्ता वाले खाद्यान्न वितरित करने के लिए कहा। साथ ही आपूर्ति अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे ऐसे राशन डीलरों के खिलाफ कानून के अनुसार कार्रवाई करें जो नियमित रूप से दुकान नहीं खोलते हैं, निर्धारित मात्रा से कम राशन वितरित करते हैं या किसी भी तरह के कदाचार जैसे कि खाद्यान्न का डायवर्जन, जमाखोरी, कालाबाजारी, राशन का कम वितरण, लाभार्थियों के साथ दु‌र्व्यवहार आदि में शामिल हैं।

इमरान हुसैन ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्ली में रहने वाले 72 लाख से अधिक पीडीएस धारकों और गैर-पीडीएस (बिना राशन कार्ड) को नियमित रूप से मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। दिल्ली सरकार द्वारा प्रवासी श्रमिकों, असंगठित श्रमिकों, भवन निर्माण एवं निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों, घरेलू सहायिकाओं, जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, सहित सभी जरूरतमंद लोगों को पांच किलोग्राम मुफ्त राशन दिया जा रहा है। इस मौके पर विधायक एस के बग्गा, खाद्य आपूर्ति उपायुक्त, सहायक आयुक्त के अलावा खाद्य और आपूर्ति अधिकारी व प्रवर्तन दल के अधिकारी उपस्थित रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.