दिल्ली में मई-जून के मुफ्त राशन से 72 लाख से ज्यादा लाभार्थियों को फायदा, केजरीवाल सरकार का राहत भरा कदम

खाद्य मंत्री ने बताया, कोरोना लाकडाउन में जनता के हित को देखते हुए कैबिनेट ने लिया निर्णय।

खाद्य आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ने इस निर्णय के क्रियान्वयन को लेकर शुक्रवार को एक उच्च स्तरीय बैठक भी बुलाई। बैठक में खाद्य आपूर्ति आयुक्त दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम (डीएससीएससी) के सीएमडी तथा दोनों विभागों के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Prateek KumarSat, 15 May 2021 06:45 AM (IST)

नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। सियासी उधेड़बुन के बीच दिल्ली में मई और जून का राशन मुफ्त ही मिलेगा। लाकडाउन के बीच जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए कैबिनेट की बैठक में भी इस निर्णय को स्वीकृति दे दी गई है। खाद्य आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन ने इस निर्णय के क्रियान्वयन को लेकर शुक्रवार को एक उच्चस्तरीय बैठक भी बुलाई। बैठक में खाद्य आपूर्ति आयुक्त, दिल्ली राज्य नागरिक आपूर्ति निगम (डीएससीएससी) के सीएमडी तथा दोनों विभागों के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

इमरान हुसैन ने बताया कि सरकार के इस निर्णय से लगभग 17,78,632 परिवारों के 72,77,995 लाभार्थियों को लाभ पहुंचेगा। इसमें 2,81,006 लाभार्थियों वाले 68,732 अंत्योदय अन्न योजना (एएवाई) परिवार भी शामिल हैं। बैठक के दौरान उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया कि राशन का वितरण सुगम, सुविधाजनक और पारदर्शी तरीके से किया जाए। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को समय-समय पर औचक निरीक्षण करने का भी निर्देश दिया।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत दो रुपये प्रति किलो गेंहू, तीन रुपये प्रति किलो चावल और 13.50 रुपये प्रति किलो चीनी की दर से राशन दिया जाता है। लेकिन मई और जून में यह राशन मुफ्त दिया जाएगा। वहीं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाइ) के तहत चार किग्रा गेहूं व एक किग्रा चावल प्रति व्यक्ति सभी राशन कार्ड धारकों को भी मुफ्त दिया जाएगा। हालांकि इस मसले पर उलझन बनी हुई थी। 10 मई को पहले विभाग ने आदेश जारी किया कि राशन मुफ्त नहीं मिलेगा। मीडिया में खबर छपी तो आदेश वापस ले लिया गया। अब अंतत: मुख्यमंत्री की मुफ्त घोषणा पर ही अमल होगा।

खाद्य मंत्री इमरान हुसैन ने बताया कि राशन की दुकानें सभी सातों दिन सुबह 9 बजे से दोपहर एक बजे तक और दोपहर तीन से शाम सात बजे तक बिना किसी साप्ताहिक अवकाश के खुली हैं। लाभार्थियों को जागरूक करने के लिए सभी दुकानों के बाहर नोटिस भी चस्पा किया गया है कि मई 2021 और जून 2021 के दो महीनों के लिए राशन कार्ड धारकों को दिए जा रहे खाद्यान्न के लिए उन्हें कुछ भी भुगतान नहीं करना है।

यदि लाभार्थियों को राशन मुफ्त में प्राप्त करने में किसी समस्या का सामना करना पड़ता है तो वे तत्काल निवारण के लिए खाद्य विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं। लाभार्थी संबंधित सहायक आयुक्त, खाद्य आपूर्ति अधिकारी या खाद्य आपूर्ति निरीक्षक को शिकायत कर सकते हैं। वे हेल्पलाइन नंबर 1967 और पीजीएमएस सहित अन्य शिकायत निवारण पोर्टल पर भी शिकायत कर सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.