Earthquake in Delhi: दिल्ली में महसूस किए गए भूकंप के हल्के झटके, पंजाबी बाग था केंद्र

Earthquake in Delhi दिल्ली-एनसीआर के इलाके में रविवार दोपहर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। भूकंप दोपहर 12 बजकर दो मिनट पर आया। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 2.1 मापी गई। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी की ओर से इसके बारे में जानकारी दी गई।

Vinay Kumar TiwariSun, 20 Jun 2021 12:53 PM (IST)
दिल्ली-एनसीआर के इलाके में रविवार दोपहर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए।

नई दिल्ली, एएनआइ। Earthquake in Delhi: दिल्ली-एनसीआर के इलाके में रविवार दोपहर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। भूकंप दोपहर 12 बजकर दो मिनट पर आया। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 2.1 मापी गई। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी की ओर से इसके बारे में जानकारी दी गई।इससे पहले भी दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं।

दिल्ली में एक जून को देर रात भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। रिक्टर पैमाने पर इस भूकंप की तीव्रता 2.4 मैग्नीट्यूड मापी गई। उस समय भूकंप का केंद्र दिल्ली का ही रोहिणी इलाका रहा। हालांकि देर रात तक कहीं से भी जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं थी। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक भूकंप रात 9 बजकर 54 मिनट पर रिकार्ड किया गया।बताया जा रहा है कि भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग घरों से बाहर निकल गए थे। भूकंप की तीव्रता कम होने की वजह से किसी प्रकार के नुकसान होने की खबर नहीं थी।

12 फरवरी 2021 को भी आया था भूकंप

इससे पहले भूकंप दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में 12 फरवरी 2021 को आया था। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 6.3 मापी गई थी। इसका केंद्र ताजिकिस्तान में जमीन से करीब 90 किमी नीचे था। हालांकि इससे भी कोई जन हानि नहीं हुई थी। अब ये तीसरी बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (National Centre for Seismology, NCS) के मुताबिक भूकंप के झटके लगते ही लोग घरों से निकल आए थे।

भूकंप विज्ञान विभाग से हुई गलती

भूकंप विज्ञान विभाग ने पहले गलती सेे कह दिया था कि 12 फरवरी को दो बार भूकंप आया। पहली बार रात 10:31 बजे और फिर उसके तीन मिनट बाद 10:34 बजे। उसने दूसरे भूकंप का केंद्र अमृतसर के पास बताया, जिसकी तीव्रता 6.1 थी। लेकिन बाद में पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव एम राजीवन ने कहा कि सिस्टम में गड़बड़ी से ऐसा हुआ। बाद में उसे सुधार दिया गया। एक बार भूकंप आया, जिसका केंद्र ताजिकिस्तान में ही था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.