दिल्ली मेट्रो के कोच में देखने को मिलेंगे कई बड़े बदलाव

मेट्रो ट्रेनों में कई तरह के बदलाव किए गए हैं। इसके तहत ट्रेन के कोच में सीसीटीवी मोबाइल चार्जर इलेक्ट्रानिक डिस्प्ले बोर्ड औक फायर डिटेक्शन उपकरण की सुविधा भी होगी। इसके अलावा फ्लोर में भी बदलाव किया गया है।

Jp YadavPublish:Mon, 29 Nov 2021 12:31 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 12:31 PM (IST)
दिल्ली मेट्रो के कोच में देखने को मिलेंगे कई बड़े बदलाव
दिल्ली मेट्रो के कोच में देखने को मिलेंगे कई बड़े बदलाव

नई दिल्ली [संतोष कुमार सिंह]। दिल्ली मेट्रो रेल निगम के प्रबंध निदेशक डा. मंगु सिंह ने सोमवार को यमुना बैंक डिपो में प्रथम नवीनीकृत मेट्रो ट्रेन का अनावरण किया। पहली ट्रेन का नवीनीकरण दो माह में किया गया है। अब एक माह में तैयार हो जाएंगी। योजना के अनुसार, अगले कुछ महीनों में 10 ट्रेनों का नवीनीकरण किया जाना है। इसके तहत 7 का यमुना बैंक में और 3 शास्त्री पार्क डिपो में किया जाएगा। इन मेट्रो ट्रेनों में कई तरह के बदलाव किए गए हैं। इसके तहत ट्रेन के कोच में सीसीटीवी, मोबाइल चार्जर, इलेक्ट्रानिक डिस्प्ले बोर्ड औक फायर डिटेक्शन उपकरण की सुविधा भी होगी। इसके अलावा, फ्लोर में भी बदलाव किया गया है। ट्रेन के भीतर पेंटिंग के साथ इलेक्ट्रिक सर्किट भी बदली गई है। अब एलसीडी रूट मैप की सुविधा भी होगी। पेंटो ग्राफ में कैमरा भी होगा, जिससे किसी तरह की परेशानी की जानकारी पायलट को मिल जाएगी।

दिल्ली मेट्रो के सीएमडी मंगू सिंह ने बताया कि 2002 में दिल्ली मेट्रो की शुरुआत हुई थी। प्रथम चरण में वर्ष 2002 से 2007 के बीच आने वाली ट्रेनों का नवीनीकरण किया जा रहा है। मेट्रो ट्रेन 400 से 600 किलोमीटर रोज चलती हैं। 18 से 19 घंटे सेवा में रहती हैं। एक ट्रेन की आयु 30 साल होती है। उन्होंने बताया कि 70 ट्रेनों का नवीनीकरण किया जाना है। 10 ट्रेनों का काम शुरू। 60 का टेंडर कर दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि 10 ट्रेन का खर्च लगभग 40 करोड़ रुपये आएगा।