फ्रंट आफिस मैनेजमेंट में है बहुत स्कोप, स्वागत-सत्कार के साथ करियर में रहें आगे

इंजीनियरिंग मेडिकल बिजनेस मैनेजमेंट के बाद होटल मैनेजमेंट को एक कामयाब एवं हॉट करियर विकल्प के रूप में देखा जाने लगा है। इसका कारण है इसमें अच्छा वेतन काम करने का अच्छा माहौल विदेश जाने के अवसर स्वरोजगार की संभावनाएं जैसे कई पहलू।

Neel RajputTue, 21 Sep 2021 03:09 PM (IST)
फ्रंट आफिस मैनेजर पर पूरे होटल को व्यवस्थित रखने की जिम्मेदारी होती है

नई दिल्ली [कमल कुमार]। हास्पिटैलिटी इंडस्ट्री में फ्रंट आफिस मैनेजमेंट से संबंधित एग्जीक्यूटिव्स एक तरह से अपने होटल का चेहरा होते हैं, जो सबसे पहले अपने ग्राहकों का स्वागत करते हुए अपने व्यवहार से उन्हें मुरीद बना लेते हैं...

होटल उद्योग अवसरों की खान है। इसी का एक विभाग है फ्रंट आफिस। एक फ्रंट आफिस मैनेजर पर पूरे होटल को व्यवस्थित रखने की जिम्मेदारी होती है। यदि आप जिम्मेदारियों को निभाने में रुचि रखते हैं, तो यह क्षेत्र एक बेहतर करियर प्रदान कर सकता है। इंजीनियरिंग, मेडिकल, बिजनेस मैनेजमेंट के बाद होटल मैनेजमेंट को एक कामयाब एवं हॉट करियर विकल्प के रूप में देखा जाने लगा है। इसका कारण है, इसमें अच्छा वेतन, काम करने का अच्छा माहौल, विदेश जाने के अवसर, स्वरोजगार की संभावनाएं जैसे कई पहलू। होटल उद्योग में बतौर प्रशिक्षु से प्रबंधक तक न जाने कितने अवसर हैं, जहां से अपने करियर की राहें आसानी से तय की जा सकती हैं। यूं तो होटल उद्योग में प्रबंधक, फ्रंट आफिस/रिसेप्शनिस्ट, फूड एंड बेवरेज, हाउसकीपिंग/बुक कीपिंग, काउंटर सर्विस, मार्केटिंग आदि कई तरह के विभाग हैं, लेकिन इनमें फ्रंट आफिस मैनेजर एक अहम विभाग होता है।

फ्रंट आफिस का कार्यक्षेत्र: फ्रंट आफिस व्यवसाय से जुड़ा शब्द है जो किसी कंपनी के उस विभाग को इंगित करता है जो ग्राहकों के सीधे संपर्क में आता है। इसमें मार्केटिंग, सेल्स और सर्विस से जुड़े लोग भी शामिल होते हैं। जहां तक होटल इंडस्ट्री का सवाल है, तो इसमें फ्रंट आफिस होटल में आने वाले अतिथियों का स्वागत करता है, उनसे मिलता है, उनका उचित अभिवादन करता है, उनका रिजर्वेशन करता है, उनके चेकइन और चेकआउट की व्यवस्था देखता है, सुरक्षा विभाग व अन्य को चाबियां सौंपता है व वापस लेता है, अतिथियों को संदेश देता है और रुपये-पैसे का हिसाब-किताब करता है।

अतिथियों की सेवा सर्वोपरि: फ्रंट आफिस हर उस काम को करने में तत्पर होता है, जिससे ग्राहकों यानी अतिथियों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो, उन्हें हर तरह से संतुष्‍ट किया जा सके। होटल के मानकों का पालन करते हुए अपनी सेवा से संतुष्‍ट करने में फ्रंट आफिस अपनी उपयोगिता साबित करता है। इस विभाग के लिए एक प्रबंधक नियुक्‍त होता है, जो फ्रंट आफिस आपरेशन को देखता है और पूरे बिजनेस प्लान के अनुसार हर काम व्यवस्थित रखता है। वह सुनिश्चित करता है कि होटल में आने वालों को यथासंभव सबसे अच्छी सर्विस दी जा सके। वह फ्रंट आफिस का अगुआ होने के नाते वहां से दी जाने वाली सेवाओं में किसी कोताही की गुंजाइश को खत्म करता है, साफ-सफाई का ध्यान रखता है, मुस्कुराते हुए अतिथियों का स्वागत करता है और उन्हें यह एहसास कराने की कोशिश करता है कि वे सही होटल में हैं जहां उनका सबसे अच्छा खयाल रखा जाएगा।

कोर्स एवं योग्‍यताएं: फ्रंट आफिस होटल मैनेजमेंट का एक अहम विभाग है। होटल मैनेजमेंट का कोर्स 12वीं के बाद कर सकते हैं। हालांकि स्नातक करने के बाद और भी रास्ते खुल जाते हैं यानी डिग्री, डिप्लोमा, स्नातकोत्तर डिप्लोमा सभी मौजूद हैं। बेकरी एंड कंफेक्‍शनरी या होटल रिसेप्शन एंड बुक कीपिंग या रेस्तरां व काउंटर सर्विस में एक साल का डिप्लोमा, डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट, बीएससी इन होटल मैनेजमेंट, एमएससी इन हास्पिटैलिटी एडमिनिस्ट्रेशन के अलावा पीजी डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट, फ्रंट आफिस एंड टूरिज्म मैनेजमेंट, एकोमोडेशन आपरेशन जैसे कोर्स प्रचलन में हैं। इन पाठ्यक्रमों में एडमिशन के लिए किसी भी मान्यताप्राप्‍त बोर्ड या विश्‍वविद्यालय से 12वीं या स्नातक होना जरूरी है। 12वीं में अंग्रेजी एक अनिवार्य विषय के रूप में पढ़ा होना चाहिए। इस इंडस्ट्री में कामयाब होने के लिए कुछ व्यक्तिगत गुणों का होना भी जरूरी है, जैसे-मृदुभाषी होना। द्विभाषी (अंग्रेजी-हिंदी) का ज्ञान हो तो और भी बेहतर।

कहां-कहां है अवसर: होटल मैनेजमेंट का कोर्स करने वालों के लिए कई विकल्प मौजूद हैं, जिनमें वे करियर बना सकते हैं। रिसॉर्ट से लेकर फाइव स्टार होटल, राज्‍यों के पर्यटन विभाग से लेकर एविएशन इंडस्‍ट्री तक युवाओं के लिए अनगिनत जॉब के मौके हैं। इसके अलावा, फास्ट फूड चेन (मेकडोनाल्ड, केएफसी, निरूलाज), रेलवे या बैंक या बड़े संस्थानों में केटरिंग या कैंटीन, एयरलाइंस, हास्पिटल, मॉल-मल्टीप्लेक्स-फूड कोर्ट, हेल्थ क्लब जैसी जगहों पर भी रोजगार पा सकते हैं। विदेश में भी होटल मैनेजमेंट में डिग्री/डिप्लोमा कर चुके छात्रों की खूब डिमांड है। इस फील्‍ड की सबसे अहम बात यह है कि आप यह कोर्स करके स्वरोजगार भी शुरू कर सकते हैं।

प्रमुख संस्थान

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद्यालय, नई दिल्ली

www.ignou.ac.in

एलबीआइआइएचएम,पीतमपुरा, नई दिल्ली

www.lbiihm.com

कुरुक्षेत्र विश्‍वविद्यालय, टूरिज्म एंड होटल मैनेजमेंट विभाग, कुरुक्षेत्र

www.kuk.ac.in

(लेखक दिल्‍ली स्थित एलबीआइआइएचएम के डायरेक्टर हैं)

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.