सिंगल यूज प्लास्टिक को ना कहने की डालिए आदत, पर्यावरण रहेगा साफ

विभिन्न गैर सरकारी संगठनों की ओर से पार्क में कचरे से बने उत्पादों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी ‘वेस्ट टू आर्ट’ आयोजित की गई तथा लोगों के बीच सिंगल यूज प्लास्टिक को ना कहने को लेकर जागरूक करने को लेकर स्वच्छता रैली भी आयोजित की गई।

Prateek KumarSun, 19 Sep 2021 04:25 PM (IST)
अमृत महोत्सव में एनडीएमसी पढ़ाएगा स्वच्छता का पाठ

नई दिल्ली, जागरण संवादाता। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) लोगों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाएगा। इसके लिए सुबह सैर के लिए निकलने वाले लोगों के साथ अभियान शुरू किया गया है। इसका शुभांरभ एनडीएमसी के अध्यक्ष धर्मेद्र ने चाणक्यपुरी स्थित नेहरू पार्क से किया।

इस अवसर पर उन्होंने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि वे सुबह और शाम के समय टहलते और जागिंग करते समय पार्को, बगीचों, फुटपाथों, गलियों और आसपास के इलाकों से कूड़े को उठाने की आदत को अपनाएं और यह सुनिश्चित करें कि वह कूड़ा पास के किसी कूड़ेदान में डाला जाए।

इससे शहर को स्वच्छ और पर्यावरण के अनुकूल बनाने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही उन्होंने आग्रह किया कि वे न तो इधर-उधर कहीं भी कूड़ा फेंकें और न ही फैलाएं। इसके साथ ही किसी और को भी ऐसा न करने दें। सभी लोग अपने जीवन में प्लाग-रन को दैनिक दिनचर्या का हिस्सा बनाएं, जिससे इस आदत को दूसरों के लिए एक उदाहरण के रूप में स्थापित किया जा सके।

इस मौके पर विभिन्न गैर सरकारी संगठनों की ओर से पार्क में कचरे से बने उत्पादों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी ‘वेस्ट टू आर्ट’ आयोजित की गई तथा लोगों के बीच सिंगल यूज प्लास्टिक को ना कहने को लेकर जागरूक करने को लेकर स्वच्छता रैली भी आयोजित की गई। इस अवसर पर पालिका परिषद के सचिव डा. बी.एम. मिश्र, जन स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, सफाई सेवकों के साथ सैकड़ों मार्निग वाकर्स, जागर्स व स्वयंसेवी संगठनों के लोग मौजूद रहे।

डा. बी. एम. मिश्र ने बताया कि पालिका परिषद के स्वच्छता कार्यक्रमों की शृंखला में सप्ताह के प्रत्येक दिन सफाई मित्र सम्मान समारोह, कचरा अलग करो-अमृत दिवस, सार्वजनिक शौचालय में सफाई जन भागीदारी का उत्सव जैसे अन्य कार्यक्रम और अभियान भी आयोजित किए जाएंगे।

इनमें स्कूली बच्चों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए कचरा प्रबंधन सेंटर ले जाकर उन्हें जागरूक किया जाएगा। इसी तरह स्वच्छता के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों, अधिकारियों, आवासीय कल्याण समितियों (आरडब्ल्यूए), मार्केट ट्रेडर्स एसोसिएशन (एमटीए), कर्मचारियों, अस्पतालों, स्कूलों और होटलों की रैंकिंग दी जाएगी। साथ ही गांधी जयंती दो अक्टूबर पर उन्हें सम्मानित किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.