Delhi Liquor Shop License: एयरपोर्ट जोन में शराब की 10 दुकानों का लाइसेंस 236 करोड़ में बिका, सरकार को करोड़ों का फायदा

एयरपोर्ट जोन में खुलने वाली 10 शराब की दुकानों के लिए रिजर्व प्राइज 105 करोड़ रुपये रखा गया था लेकिन इस जोन के लिए आनलाइन बोली 236 करोड़ पर बंद हुई। इस जोन में खुलने वाली शराब की एक दुकान का जो रिजर्व प्राइज 10 करोड़ 50 लाख रुपये था।

Mangal YadavSun, 19 Sep 2021 08:50 AM (IST)
एयरपोर्ट जोन में शराब की 10 दुकानों का लाइसेंस 236 करोड़ में बिका

नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत जोन-32 में खुलने वाली शराब की 849 दुकानों के लिए बोली लगने का काम पूरा हो गया है। सभी जोन में लगी बोली में शराब कारोबारियों ने रिजर्व प्राइस से अधिक की बोली लगाई। लेकिन इन सबसे अधिक बोली एयरपोर्ट जोन के लिए लगी है।

एयरपोर्ट जोन में खुलने वाली 10 शराब की दुकानों के लिए रिजर्व प्राइज 105 करोड़ रुपये रखा गया था, लेकिन इस जोन के लिए आनलाइन बोली 236 करोड़ पर बंद हुई। इस जोन में खुलने वाली शराब की एक दुकान का जो रिजर्व प्राइज 10 करोड़ 50 लाख रुपये था, वह 23 करोड़ 60 लाख रुपये तक पहुंच गया। सबसे अधिक बोली लगने वाली टाप थ्री जोन की लिस्ट में दूसरे नंबर पर जोन-28 रहा। इस जोन में 27 शराब की दुकानों के लिए रिजर्व प्राइज से करीब 60 फीसद अधिक की बोली लगी।

इसी तरह से जोन- 11 में 58.1 फीसद अधिक की बोली लगी। जोन-31 में आने वाले एनडीएमसी एरिया और दिल्ली कैंट में खुलने वाली 29 शराब की दुकानों के लिए जो बोली लगी। वह रिजर्व प्राइज से 45 फीसद से भी अधिक तक पहुंची। सबसे कम जोन-17 से सरकार को मात्र एक करोड़ रुपये अधिक का ही राजस्व मिला। इस जोन में खुलने वालो शराब की 27 दुकानों के लिए 226 करोड़ रुपये रिजर्व प्राइज रखा गया था।

इसी तरह से जोन-13 और जोन-27 के लिए भी चार और 12 करोड़ रुपये का ही फायदा हुआ। 32 जोन में 17 नवंबर से खुलने वाली शराब की 849 दुकानों के लिए रिजर्व प्राइज 7,041 करोड़ रुपये रखा गया था। सरकार को शराब की दुकानों के लिए लगी बोली में 1,876.59 करोड़ रुपये का फायदा हुआ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.