जानिए विस्फोट से दहलाने के अलावा और क्या-क्या करने वाले थे पाकिस्तान में प्रशिक्षण लेकर लौटे आतंकी

धमाके करवाने के अलावा राजनेताओं व नामचीन हस्तियों की हत्या को भी अंजाम दिलाया जाना था। ओसामा उर्फ समी व जीशान कमर को पाकिस्तान में प्रशिक्षण के दौरान व्यक्ति विशेष की हत्या के लिए भी तैयार किया गया था।

Vinay Kumar TiwariThu, 16 Sep 2021 12:49 PM (IST)
देश में आतंकी हमलों के लिए इस्तेमाल कर रहे दाऊद और अनीस।

नई दिल्ली [धनंजय मिश्र]। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की पूछताछ में पता चला है कि गिरफ्त में आए आतंकियों से धमाके करवाने के अलावा राजनेताओं व नामचीन हस्तियों की हत्या को भी अंजाम दिलाया जाना था। ओसामा उर्फ समी व जीशान कमर को पाकिस्तान में प्रशिक्षण के दौरान व्यक्ति विशेष की हत्या के लिए भी तैयार किया गया था। इसके लिए दोनों को इटली में निर्मित अत्याधुनिक पिस्टल व स्नाइपर राइफल चलाने का प्रशिक्षण दिया गया था।

दिल्ली पुलिस के सूत्रों के अनुसार, गिरफ्तार आतंकियों से पूछताछ में सामने आया है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के इशारे पर दाऊद इब्राहिम का भाई अनीस इब्राहिम राजनेताओं और नामचीन हस्तियों की सूची उपलब्ध कराने वाला था। उसके निर्देश पर ही आतंकियों को हत्या की वारदात को अंजाम देना था। आतंकी अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने के लिए फिलहाल विस्फोटक व हथियार एकत्रित कर रहे थे।

साथ ही उन्हें अनीस के निर्देश का इंतजार था। आतंकी एक-दूसरे से व पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं से टेलीग्राम व वाट्सएप के जरिये संपर्क करते थे। स्पेशल सेल इनके मोबाइल फोन व अन्य डिजिटल डाटा की जांच कर रही है। इनके मोबाइल फोन व अन्य डाटा की जांच से और भी कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिल सकती हैं और इनके अन्य मददगारों का भी पता लग सकेगा।

आइएसआइ ने कुछ माह पहले अनीस इब्राहिम के करीबी समीर काले को भारत में कुछ युवकों को आतंकी गतिविधियों के लिए तैयार करने को कहा था। समीर मुंबई में रहता है और दाऊद का सबसे खास है। उसने ओसाम व जीशान को कराची भेजा। दोनों जब भारत लौटे तो कई युवाओं को पैसे का लालच देकर अपने साथ जोड़ लिया। उसने पाकिस्तान से लौटकर पैसों की मदद से युवाओं को जोड़ा।

स्पेशल सेल द्वारा हाल में पकड़े गए आतंकी

31 दिसंबर 2020: भारत में कई आतंकी आपरेशन को अंजाम देने वाले सुख बिकरीवाल को दिल्ली एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किया।

7 दिसंबर 2020: खालिस्तानी संगठन से जुड़े पांच आतंकियों को लक्ष्मी नगर के शकरपुर इलाके से गिरफ्तार किया।

3 अक्टूबर 2020: अंसार गजवत उल हिंद के चार आतंकियों को गिरफ्तार किया। चार पिस्टल और 120 कारतूस बरामद हुए।

30 अगस्त 2020: खालिस्तान समर्थक दो संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया।

21 अगस्त 2020: आइएस का एक आतंकी गिरफ्तार किया गया।

26 नवंबर 2018: जम्मू-कश्मीर के तीन कथित आतंकियों को गिरफ्तार किया गया।

7 सितंबर 2018: दिल्ली पुलिस ने लाल किले के पास से दो आतंकियों को किया गिरफ्तार।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.