जानिए पिंक लाइन शुरू हो जाने के बाद दिल्ली मेट्रो का कुल कितने किलोमीटर का हो जाएगा नेटवर्क, कितने हो जाएगी स्टेशनों की संख्या

त्रिलोकपुरी-मयूर विहार पाकेट एक के बीच मेट्रो का परिचालन शुरू होने से पिंक लाइन दिल्ली मेट्रो का सबसे बड़ा कारिडोर बन जाएगा। इस लाइन के शुरू हो जाने के बाद शिव विहार से मजलिस पार्क तक सीधी मेट्रो सेवा उपलब्ध हो जाएगी।

Vinay Kumar TiwariSun, 01 Aug 2021 07:22 PM (IST)
पिंक लाइन के पूरे 59 किलोमीटर नेटवर्क पर सीधी उपलब्ध होगी मेट्रो सेवा।

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। दिल्ली मेट्रो राजधानी में अपने नेटवर्क में दिनोंदिन इजाफा कर रहा है। अब पिंक लाइन के शुरू हो जाने के बाद दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन का कुल नेटवर्क 390 किलोमीटर का हो जाएगा और इसके स्टेशनों की संख्या बढ़कर 286 हो जाएगी।

पिंक लाइन होगा मेट्रो का सबसे बड़ा कारिडोर

इस नई लाइन की एक खासियत और है कि ये 59 किलोमीटर की लंबी सीधी लाइन है। त्रिलोकपुरी-मयूर विहार पाकेट एक के बीच मेट्रो का परिचालन शुरू होने से पिंक लाइन दिल्ली मेट्रो का सबसे बड़ा कारिडोर बन जाएगा। इस लाइन के शुरू हो जाने के बाद शिव विहार से मजलिस पार्क तक सीधी मेट्रो सेवा उपलब्ध हो जाएगी। इससे यात्रियों का सफर आसान हो जाएगा।

लंबे समय के बाद अब पिंक लाइन के त्रिलोकपुरी-मयूर विहार पाकेट एक व ग्रे लाइन के नजफगढ़-ढांसा बस स्टैंड कारिडोर पर मेट्रो का परिचालन शुरू करने की तारीख घोषित की गई है। इसी सप्ताह छह अगस्त को केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये हरी झंडी दिखाकर दोनों कारिडोर पर मेट्रो का परिचालन शुरू करेंगे और उसी दिन दोपहर तीन बजे से यात्रियों के लिए मेट्रो सेवा उपलब्ध हो जाएगी। इसके 59 किलोमीटर नेटवर्क पर

390 किलोमीटर का नेटवर्क, 286 स्टेशन

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) का कहना है कि दोनों कारिडोर पर परिचालन शुरू होने से दिल्ली मेट्रो का कुल नेटवर्क 390 किलोमीटर व कुल स्टेशन 286 हो जाएंगे। मौजूदा समय में ¨पक लाइन के अलग-अलग दो हिस्सों पर मेट्रो का परिचालन हो रहा है। इसके तहत मजलिस पार्क से मयूर विहार पाकेट एक और त्रिलोकपुरी से शिव विहार के बीच मेट्रो का परिचालन हो रहा है। इन दोनों कारिडोर के बीच का 290 मीटर हिस्सा जमीन विवाद के कारण पहले नहीं बन पाया था। अब त्रिलोकपुरी से मयूर विहार पाकेट एक के बीच कारिडोर तैयार हो चुका है।

तकनीकी निरीक्षण के बाद मिली मंजूरी

23 जुलाई को मेट्रो रेल संरक्षा आयुक्त (सीएमआरएस) ने कारिडोर का तकनीकी निरीक्षण करने के बाद उसी दिन परिचालन के लिए मंजूरी दे दी थी। पिंक लाइन आनंद विहार रेलवे स्टेशन, निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन के अलावा साउथ एक्सटेंशन, लाजपत नगर मार्केट व आइएनए को जोड़ती है। इसलिए पूर्वी दिल्ली के लोगों के लिए निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन, साउथ एक्सटेशन, लाजपत नगर मार्केट व आइएनए पहुंचना आसान हो जाएगा। इसके अलावा दक्षिणी दिल्ली के इलाकों से आनंद विहार रेलवे स्टेशन पहुंचना आसान हो जाएगा।

ग्रे लाइन के 4.3 किलोमीटर हिस्से पर मेट्रो सेवा उपलब्ध

वहीं मौजूदा समय में ग्रे लाइन के 4.3 किलोमीटर हिस्से पर द्वारका से नजफगढ़ के बीच मेट्रो सेवा उपलब्ध है। नजफगढ़ से ढांसा बस स्टैंड के बीच मेट्रो का परिचालन शुरू होने से ग्रे लाइन का नेटवर्क करीब एक किलोमीटर बढ़ जाएगा और द्वारका से सीधे ढांसा बस स्टैंड तक मेट्रो उपलब्ध हो सकेगी। इससे नजफगढ़ के आसपास स्थित गांवों के लोगों व ढांसा बार्डर के नजदीक स्थित हरियाणा के गांवों के लोगों के लिए दिल्ली पहुंचना आसान हो जाएगा।

ये भी पढ़ें- Kisan Andolan: राकेश टिकैत ने वीडियो जारी कर तिरंगा यात्रा को लेकर हरियाणा के किसानों से की ये खास अपील, आप भी जानें

ये भी पढ़ें- Happy Friendship Day: कुमार विश्वास ने किस तरह अलग-अलग अंदाज में दी बधाई, आप भी पढ़िए

ये भी पढ़ें- जानिए किस आप विधायक पर फिदा हुई एक लड़की, ट्वीट कर बोली मुझे फ्री बिजली नहीं, वो विधायक चाहिए

ये भी पढ़ें- Indian Railways: दिल्ली रेल मंडल पूरी तरह से हो जाएगा डीजल मुक्त, जानिए क्या हो रही तैयारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.