दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

55 लाख रुपये की सुपारी देकर कराई गई थी किन्नर एकता की हत्या, कारण जानकर पुलिस टीम भी रह गई दंग

पिछले साल सितंबर में जीटीबी एन्क्लेव में की गई थी किन्नर एकता जोशी की गाेली मारकर हत्या

मुख्य आरोपित गगन पंडित पर एक लाख व वरुण पर था 50 हजार रुपये का इनाम। पुलिस की स्पेशल सेल ने पिछले साल पांच सितंबर को जीटीबी एन्कलेव में किन्नर एकता जोशी की गोली मारकर हत्या करने वाले दो कुख्यात बदमाश गगन पंडित व वरुण को गिरफ्तार किया है।

Vinay Kumar TiwariSun, 11 Apr 2021 03:54 PM (IST)

जगरण संवाददाता, नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पिछले साल पांच सितंबर को जीटीबी एन्कलेव में किन्नर एकता जोशी की गोली मारकर हत्या करने वाले दो कुख्यात बदमाश गगन पंडित व वरुण को गिरफ्तार कर लिया है। इन्हें शनिवार तड़के निरंकारी समागम ग्राउंड, शाह आलम बांध रोड से गिरफ्तार किया गया।

55 लाख रुपये सुपारी लेकर इन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। दिल्ली पुलिस की तरफ से इनमें गगन पंडित पर एक लाख और वरुण पर 50 हजार रुपये का इनाम था। उक्त मामले में दोनाें वांछित थे।

डीसीपी स्पेशल सेल प्रमाेद सिंह कुशवाहा के मुताबिक गगन पंडित, पश्चिमपुरी, पश्चिम विहार व वरुण लालकुआं, दिल्ली का रहने वाला है। गगन के खिलाफ दिल्ली व यूपी में हत्या, हत्या के प्रयास, डकैती, लूटपाट, आर्म्स एक्ट व चोरी के 14 से ज्यादा केस दर्ज हैं। पांच सितंबर को जीटीबी एन्क्लेव में स्कूटी सवार गगन समेत दो बदमाशों ने उस समय एकता जोशी की गोली मारकर हत्या कर दी थी जब वह अपनी सौतेली मां अनीता जोशी और सौतेले भाई आशीष जोशी के साथ कार से लक्ष्मी नगर से घर आए थे। कई गाेली लगने के कारण उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी।

10 अप्रैल को एसीपी अतर सिंह, इंस्पेक्टर शिव कुमार, कर्मवीर सिंह व पवन कुमार को सूचना मिली कि गगन अपने एक साथी बदमाश के साथ हरियाणा नंबर की सकार्पियो से निरंकारी समागम ग्राउंड के पास आने वाला है। पुलिस टीम ने जब स्कार्पियो को रोकने का इशारा किया तो गगन ने पुलिस टीम पर गोली चला दी। पुलिसकर्मी बाल-बाल बच गए। उन्होंने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों को दबोच लिया।

गगन के पास से एक पिस्टल व चार कातूस और वरुण के पास से एक कटटा व दो कारतूस मिले। पुलिस ने स्कार्पियो को भी जब्त कर लिया। पुलिस का कहना है कि एकता जोशी की हत्या के मामले में गगन मास्टर माइंड था। उनकी हत्या के लिए किन्नर मंजूर इलाही ने उसे 55 लाख रुपये की सुपारी दी थी। हत्या करने व साजिश रचने में कुछ सात आरोपित शामिल थे।

पैसों का भुगतान तीन किश्तों में देने की बात कही गई थी। 15 लाख रुपये मिलने के बाद गगन ने वारदात को अंजाम दे दिया था। दरअसल इलाके के बंटवारे को लेकर किन्नरों के बीच झगड़ा था। जिससे फरीदाबाद की रहने वाली सोनम, वर्षा व जीटीबी की रहने वाली कमल व मंजूर इलाही ने एकता जोशी की सुपारी देकर हत्या कराई थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.