Khichripur Murder Case: पहले बेटा और अब बेटी खोकर टूटी मां, आंखों से बह रहे आंसू

खिचड़ीपुर में तैनात अर्धसैनिक बल के जवान’ जागरण

मां ने बताया कि 23 फरवरी को उनकी बच्ची बाहर खेल रही थी। बच्ची ने कहा था कि वह चाय बनाकर पिलाएगी। यह बात कहते हुए उसने कुछ चीज लाने के लिए दो रुपये भी मांगे थे जिसे लेने वह नीचे गई।

Mangal YadavSun, 28 Feb 2021 11:41 AM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। खिचड़ीपुर में पीड़ित बच्ची की मां की आंख से आंसू रुक नहीं रहे हैं। कुछ वक्त पहले बीमारी ने उनके बेटे को छीन लिया। अब बेटी की हत्या होने से वह पूरी तरह टूट चुकी हैं। उनकी जुबान से शब्द नहीं निकल रहे, उनकी व्यथा को आंखों से बहते आंसुओं से ही समझा जा सकता है। उनकी आठ साल की बच्ची का पड़ोस में रहने वाले जानी उर्फ शिवा ने नरेश, कैलाश और तरुण के साथ मिलकर अपहरण कर लिया था। बाद में मोदीनगर में बच्ची की हत्या कर शव को फेंक दिया था। खेत में बच्ची के शव को जानवरों ने क्षत-विक्षत कर दिया था। पुलिस ने शुक्रवार को सभी आरोपितों की गिरफ्तारी के साथ शव को बरामद कर लिया था। घटना की जानकारी मिलने पर पड़ोसियों के अलावा आसपास के लोग शनिवार को स्वजन को सांत्वना देने पहुंचे।

इस दौरान बच्ची की मां की आंखों से आंसू बह रहे थे। वह रोते हुए कह रही थीं कि ईश्वर ने पहले उनसे उनका बेटा छीन लिया। अब बेटी को अपने पास बुला लिया। बच्ची के पिता ने बताया कि उनका बेटा तीनों बहनों से बड़ा था। कुछ वर्ष पहले उसकी बीमारी से मौत हो गई थी। उनकी पत्नी बेटे की मौत का दर्द अब तक नहीं भुला पाई हैं, अब बेटी की हत्या होने से वह पूरी तरह टूट चुकी हैं। उन्होंने बताया कि उनकी पत्नी बीमार हैं।

मां ने बताया कि 23 फरवरी को उनकी बच्ची बाहर खेल रही थी। दोपहर दो बजे वह उसे घर लाई थीं। उनको चाय पीनी थी। बच्ची ने कहा था कि वह चाय बनाकर पिलाएगी। यह बात कहते हुए उसने कुछ चीज लाने के लिए दो रुपये भी मांगे थे जिसे लेने वह नीचे गई। उसके बाद शाम तक वह वापस नहीं लौटी। आसपास काफी ढूंढने पर वह नहीं मिली तो पुलिस को शिकायत दी गई। मां की मांग है कि उनकी बेटी के हत्यारों को फांसी होनी चाहिए।

मौसी का आरोप, पुलिस ने समय रहते नहीं उठाया कदम

बच्ची की मौसी ने आरोप लगाया कि पुलिस ने शिकायत पर समय रहते कदम नहीं उठाया। अगर, पुलिस हरकत में आई होती तो बच्ची जिंदा होती। उन्होंने बताया कि उनके पड़ोस में रहने वाले युवकों ने 23 फरवरी की रात को सीसीटीवी कैमरे की फुटेज निकाल कर दी थी। जिसमें जानी बच्ची का अपहरण करता नजर आ रहा था। तत्काल फुटेज पुलिस को दी गई थी। फिर भी आरोपित पकड़े नहीं जा सके।'

तनाव को देखते हुए इलाके में अर्धसैनिक बल तैनात

बच्ची की हत्या की सूचना पर खिचड़ीपुर के गुस्साए लोगों ने शुक्रवार को आरोपित के घर पथराव कर दिया था। उसके घर का मीटर भी तोड़ दिया था। माहौल तनावपूर्ण होने पर इस इलाके में अर्ध सैनिक बल तैनात किया गया है।

आरोपित के स्वजन घर छोड़ कर गए

शनिवार को आरोपित के घर के दरवाजों पर ताला लटका हुआ था। घर की सीढ़ी पर ईंट के टुकड़े पड़े हुए थे। पड़ोसियों ने बताया कि आरोपित के स्वजन कहीं चले गए हैं। यह जानकारी भी दी कि आरोपित के मकान में किरायेदार भी रहते थे। वे भी घर छोड़कर जा चुके हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.