top menutop menutop menu

केजरीवाल बोले, होम आइसोलेशन में सुरक्षा कवच बचा रहा जान; मृत्यु दर को कम करने में रहा कारगर

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली।  मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि राजधानी में कोरोना मरीजों की मृत्यु दर को कम करने में सुरक्षा कवच अहम साबित हुआ है। दरअसल मुख्यमंत्री ने पल्स ऑक्सी मीटर को यह नाम दिया है। उन्होंने कहा कि इस मशीन होम आइसोलेशन में रह रहे मरीज समय-समय पर शरीर में ऑक्सीजन के स्तर की जांच कर लेते हैं।

मुख्यमंत्री ने इस संबंध में ट्वीट करते हुए कहा कि दिल्ली में होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की मृत्यु दर को कम करने में पल्स ऑक्सी मीटर नामक सुरक्षा कवच के कारण सफल हुए हैं। अगर मरीज को पता चलता है कि उसके शरीर में ऑक्सीजन का स्तर कम हो रहा है तो वह मदद के लिए स्वास्थ्य विभाग से संपर्क कर सकता है। ऐसे मरीजों को तत्काल अस्पताल पहुंचाया जाता है या फिर उसे घर पर ही ऑक्सीजन मुहैया करा दी जाती है।

रविवार को दिल्ली में 1500  से ज्यादा नए मामले

कोरोना की मार से दिल्ली को थोड़ी राहत मिलती नजर आ रही है। कोरोना महामारी से दिल्ली में मरने वालों की संख्या कम हुई है। दिल्ली में नए मामलों में भी कमी आई है। रविवार को यहां 1,573 नए केस मिले और मरीजों का आंकड़ा 1,12,494 हो गई। यहां अब तक 3,371 लोगों की जान जा चुकी है। लेकिन पिछले दिनों की यह संख्या कम है। गुजरात में 879 नए केस मिले हैं और संक्रमितों का आंकड़ा 41,897 पर पहुंच गई है। अब तक यहां 2,047 लोगों की जान जा चुकी है। 81 नए मामलों के साथ पुडुचेरी में 1,418 मरीज हो गए हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.