Air Pollution 2021: जहरीला हवा से आंखों में जलन तो कुछ ने बताया आ रही सांस लेने में दिक्कत

Air Pollution 2021 वायु प्रदूषण के चलते ज्यादातर लोगों ने आंखों में जलन और सांस लेने में दिक्कत की शिकायत की है। हवा की श्रेणी अभी भी बहुत खराब ही है और एयर इंडेक्स में अंकों का इजाफा देखने को मिल रहा है।

Jp YadavThu, 02 Dec 2021 09:15 AM (IST)
Air Pollution 2021: जहरीला हवा से आंखों में जलन तो कुछ ने बताया आ रही सांस लेने में दिक्कत

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। दिल्ली-एनसीआर में लगातार वायु प्रदूषण की स्थिति बहुत गंभीर श्रेणी में ही बनी हुई है। बृहस्पतिवार को भी दिल्ली के साथ एनसीआर के शहरों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 300 के पार है। इससे पहले हवा की रफ्तार मंद पड़ते ही बुधवार से एक बार फिर दिल्ली एनसीआर की हवा बिगड़ने का दौर शुरू हो गया। इसका असर बृहस्पतिवार को भी है। वायु प्रदूषण के चलते ज्यादातर लोगों ने आंखों में जलन और सांस लेने में दिक्कत की शिकायत की है। हवा की श्रेणी अभी भी बहुत खराब ही है, और एयर इंडेक्स में अंकों का इजाफा देखने को मिल रहा है। बृहस्पतिवार को भी यही स्थिति बने रहने के आसार हैं। शुक्रवार को हवा की रफ्तार में सुधार होने पर फिर से प्रदूषण में कमी आने की संभावना है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी एयर क्वालिटी बुलेटिन के अनुसार बुधवार को दिल्ली का एयर इंडेक्स 370 रहा। यह मंगलवार के 328 के मुकाबले 32 अंक अधिक था।

कहां कितना इंडेक्स

फरीदाबाद का एयर इंडेक्स 384, गाजियाबाद का 387, ग्रेटर नोएडा का 358, गुरुग्राम का 360 और नोएडा का भी 360 दर्ज किया गया। मंगलवार के मुकाबले सभी जगहों के एयर इंडेक्स में कुछ अंकों की गिरावट देखने को मिली। बुधवार को दिल्ली में पीएम 2.5 का स्तर 174 जबकि पीएम 10 का स्तर 312 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रहा।

सफर इंडिया के मुताबिक दो दिन हवा के शांत रहने से वेंटिलेशन कम होने की संभावना है, जिससे हवा की गुणवत्ता बिगड़ सकती है लेकिन रहेगी बहुत खराब श्रेणी में ही। शुक्रवार के बाद हवाओं की रफ्तार में सुधार होने के प्रदूषक तत्व छंटने की संभावना बनेगी। हालांकि एयर इंडेक्स के तब भी ’बहुत खराब’ श्रेणी में रहने की संभावना है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.