Online Class: गुड व बैड स्क्रीन टाइम को लेकर छात्रों को दी जानकारी

Online Class: गुड व बैड स्क्रीन टाइम को लेकर छात्रों को दी जानकारी
Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 08:41 PM (IST) Author: Prateek Kumar

नई दिल्ली [रीतिका मिश्रा]। कोरोना महामारी के चलते सभी स्कूलों में ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित की जा रही हैं। इसकी वजह से छात्रों का स्क्रीन टाइम (समय) भी बढ़ गया है। विषय से सबंधित कक्षाएं के साथ-साथ अब किसी भी गतिविधि की कक्षाएं भी ऑनलाइन ही हो रही हैं। इसके साथ ही छात्र लगातार तीन-चार महीनों से घर में ही कैद है, जिससे पढ़ाई के बाद खेल-कूद का समय भी वह ऑनलाइन गेम्स खेलने में बिता रहा है। ऐसे में छात्रों को गुड (अच्छा) स्क्रीन टाइम और बैड (खराब) स्क्रीन टाइम को लेकर शालीमार बाग स्थित मॉडर्न पब्लिक स्कूल ने 12वीं कक्षा तक के छात्रों, अभिभावकों व शिक्षकों के लिए ऑनलाइन सत्र आयोजित किया।

सत्र में प्रधानाचार्या अलका कपूर ने छात्रों को बताया कि किस तरह से ऑनलाइन पढ़ाई करनी है। वहीं, सत्र के दौरान शिक्षकों को हर एक कक्षा के बाद छात्रों को 20 मिनट का आंखों से संबंधित व्यायाम कराने के भी निर्देश दिए गए ताकि छात्रों की आंखे भी स्वस्थ रहें। वहीं, छात्रों को इस दौरान ब्लू (नीली) स्क्रीन का मतलब भी समझाया गया और ये भी बताया गया कि हमेशा पढ़ते समय प्रर्याप्त रोशनी होनी चाहिए, ताकि आंखों पर असर न पड़े। इसके साथ ही छात्रों को पढ़ते वक्त सही तरीके से बैठने के आसन भी बताए गए।

ऑनलाइन कक्षाओं में छात्रों की रुचि बनाएं रखने को लेकर अभिभावकों को भी इस दौरान समझाया गया कि ऑनलाइन कक्षाओं के बाद बच्चें से फोन या लैपटॉप ले ताकि वह समय का बेहतरीन तरीके से उपयोग करे और अपने परिवार के बुजुर्ग सदस्यों के साथ भी समय बिताएं। उनसे वह ज्ञान लेने की कोशिश करे जो किताबें नहीं दे सकती। इसके साथ ही बच्चों को घर के घरेलू कामों में माता व बहन की मदद करने को भी कहा गया। इस एक घंटे के कार्यक्रम के दौरान दो हजार बच्चे मौजूद थे।

ऑनलाइन सत्र में छात्रों को दी गई राय-

 कम से कम आठ घंटे की आरामदायक नींद ले।  रात में गैजेट्स (तकनीकी यंत्र) का इस्तेमाल नहीं करे।  किताब पढ़कर नींद लेने की आदत बनाएं। रोजाना सुबह उठकर छत पर जाकर या बाल्कनी से पक्षियों की चहचहाट को रिकॉर्ड करें।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.