International Wrestlers Murder Case: सवालों के घेरे में पहलवान सुशील कुमार, सागर की हत्या में हाथ नहीं तो फरार क्यों

International Wrestlers Murder Case छत्रसाल स्टेडियम में पूर्व जूनियर नेशनल चैंपियन पहलवान सागर की पीटकर हत्या के मामले में अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगियों में गोल्ड मेडल तक जीत देश का नाम रौशन करने वाले सुशील पहलवान की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं।

Jp YadavSat, 08 May 2021 07:16 PM (IST)
International Wrestlers Murder Case: सवालों के घेरे में पहलवान सुशील कुमार, सागर की हत्या में हाथ नहीं तो फरार क्यों

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क।​​​​​ दिल्ली के नामी छत्रसाल स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय पहलवान सागर धनकड़ हत्याकांड में आरोपित ओलंपियन सुशील कुमार की तलाश में दिल्ली पुलिस हरियाणा के अलावा उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भी छापेमारी कर रही है, लेकिन वह तीन दिनों से फरार है। बहरहाल, छत्रसाल स्टेडियम में पूर्व जूनियर नेशनल चैंपियन पहलवान सागर की पीटकर हत्या के मामले में अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगियों में गोल्ड मेडल तक जीत देश का नाम रौशन करने वाले सुशील पहलवान की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं।

कुछ किया नहीं तो सुशील कुमार फरार क्यों

अंतरराष्ट्रीय पहलवान सागर धनखड़ की हत्या से हरियाणा के सोनीपत और रोहतक में लोग गुस्से में है। सागर मूलरूप से रोहतक जिले के रहने वाले थे, लेकिन पिता अशोक की वजह से सोनीपत में रहते थे। वहीं, दिल्ली पुलिस के अलावा, सागर धनखड़ के परिजनों और दोस्तों का कहना है कि जब सुशील कुमार ने दावा किया है तो वह फरार क्यों है? पुलिस से तो वही भागता फिरता है जो कोई गलत काम करता है। वहीं, जानकारों की मानें तो सुशील कुमार अगर घटना स्थल पर थे, उन्होंने पुलिस को जानकारी क्यों नहीं दी। पूरा मामला 12 घंटे के बाद सामने आया, जब मीडिया में खबरें आईं।

वीडियो क्लिप बढ़ा सकता है सुशील कुमार मुश्किल

अंतरराष्ट्रीय पहलवान सागर धनकड़ हत्याकांड में गिरफ्तार आरोपित प्रिंस दलाल के मोबाइल फोन में कई अहम राज थे, जो दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ गए हैं। बताया जा रहा है कि जांच के दौरान पुलिस को मिली वीडियो क्लिप में सुशील अपने साथियों के साथ सागर व उसके दोस्तों की पिटाई करता दिखाई दे रहा है। इस बीच जांच की दिशा में कोई गलत तथ्य शामिल नहीं हो, इसलिए दिल्ली पुलिस ने मोबाइल फोन को जांच के लिए एफएसएल भेज दिया है। अगर ये वीडियो क्लिक सीएफएल जांच में सही पाए गए तो सुशील कुमार पर हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जा सकता है। इसके साथ कई अन्य धाराओं को जोड़ा जा सकता है।

इलेक्ट्रॉनिक सबूतों पर टिकी दिल्ली पुलिस की जांच

उत्तर-पश्चिम जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की मानें तो जांच में छत्रसाल स्टोडियम में घटना स्थल का कोई वीडियो नहीं हासिल हो गया है, क्योंकि जहां पर यह घटना हुआ यानी गेट व घटना स्थल के पास कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा था। ऐसे में पुलिस को जांच की गति बढ़ाने में मुश्किल आ रही है, लेकिन आरोपितों की गिरफ्तारी दिल्ली पुलिस का प्रथम लक्ष्य है। फिलहाल दिल्ली पुलिस की कई टीमें सुशील कुमार की गिरफ्तारी के प्रयास में जुटी हैं। यह जानकारी सामने आ रही है कि मंगलवार की रात जब यह पूरा बवाल हुआ, उस दिन सुशील कुमार के आवास पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के साथ छेड़छाड़ की गई है। ऐसे में पुलिस ने सुशील और बाकी आरोपी दोस्तों की सीडीआर भी निकलवाई है। 

आपको बता दें कि दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में 4 मई की रात पहलवानों के बीच हाथापाई का मामला सामने आया था। इसमें कुछ पहलवान बुरी तरह घायल हो गए थे, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें से एक पहलवान सागर धनखड़ की इलाज के दौरान मौत हो गई।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.