Farmers Protest: परेड के लिए दिल्ली में घुसे सैकड़ों ट्रैक्टर, सिंघु बार्डर-नरेला रोड पर डाला डेरा

परेड के लिए दिल्ली में घुसे सैकड़ों ट्रैक्टर

गणतंत्र दिवस से पहले ट्रैक्टरों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पुलिस की ओर से भी किसानों को बार-बार समझाने की कोशिश की जा रही है कि वह दिल्ली में परेड न निकाले। लेकिन किसानों की ओर से अडियल रवैया अपनाया हुआ है।

Publish Date:Sat, 23 Jan 2021 06:12 AM (IST) Author: Mangal Yadav

नई दिल्ली [सोनू राणा]। गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में परेड निकालने के लिए किसान पूरी तरह तैयार हैं। गुरुवार से लेकर शुक्रवार शाम तक सैकड़ों ट्रैक्टर दिल्ली से लगते गांवों के रास्ते राजधानी में प्रवेश कर सिंघु बार्डर पर पहुंच चुके हैं। नरेला की ओर जहां तक नजर जा रही है, वहां तक ट्रैक्टर ही ट्रैक्टर नजर आ रहे हैं। करीब दो किलोमीटर तक खड़े ट्रैक्टर-ट्रालियों को देखकर साफ पता लग रहा है कि 26 जनवरी को किसान दिल्ली में घुसकर ट्रैक्टर परेड निकालेंगे। गुरुवार सुबह तक इनकी संख्या काफी कम थी। रात को इन्होंने दिल्ली में प्रवेश करना शुरू किया और शुक्रवार तक इनकी संख्या इतनी ज्यादा बढ़ गई कि अब आसपास के लोगों का यहां से निकलना भी मुश्किल हो गया है।

कुछ लोग तो ट्रालियों में दो अतिरिक्त ट्रैक्टर लेकर भी आए हैं। ताकि परेड में कोई कमी न रहे। हालांकि वह अभी तक बैरिकेडों के दूसरी ओर खड़े हैं। उन्होंने अभी तक दिल्ली में प्रवेश नहीं किया है।

गणतंत्र दिवस से पहले ट्रैक्टरों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पुलिस की ओर से भी किसानों को बार-बार समझाने की कोशिश की जा रही है कि वह दिल्ली में परेड न निकाले। लेकिन किसानों की ओर से अडियल रवैया अपनाया हुआ है। उनका कहना है कि वह बाहरी रिंग रोड पर शांतिपूर्वक तरीके से मार्च निकालेंगे।

ट्रक भरकर लाए हैं राशन

इन किसानों में ज्यादातर संख्या पंजाब के लोगों की है। किसान अपने साथ राशन से भरकर ट्रक भी लाए हैं। उन्होंने नरेला की ओर अपना डेरा डालकर खाना बनाना भी शुरू कर दिया है। जैसे ही किसान जत्थेबंदियां किसानों को दिल्ली की ओर कूच करने को कहेंगे ये गांवों के रास्ते होते हुए दिल्ली में प्रवेश कर सकते हैं।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.