Delhi Monsoon 2021 Update: दिल्ली में बना बारिश का नया रिकॉर्ड, IMD ने जारी की ताजा भविष्यवाणी

अगर अगले तीन-चार दिनों में जम्मू-कश्मीर हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड पंजाब हरियाणा चंडीगढ़ और उत्तर प्रदेश में यात्रा की योजना बना रहे हैं तो सतर्क हो जाइए क्योंकि मौसम विभाग ने 29 जुलाई तक इन राज्यों में भारी बारिश की संभावना जताई है।

Jp YadavTue, 27 Jul 2021 07:35 AM (IST)
Delhi Monsoon 2021 Update: दिल्ली-एनसीआर में हो रही झमाझम बारिश, IMD ने जारी किया है यलो अलर्ट

नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। दिल्ली-एनसीआर में मंगलवार सुबह से झमाझम बारिश हो रही है। इससे लोगों को भीषण गर्मी और उसम से राहत मिली है, लेकिन जलभराव के चलते लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। आश्रम, आनंद विहार, सरिता विहार, आइटीओ समेत दर्जनभर इलाकों में जलभराव के चलते ट्रैफिक धीमा हो गया। वहीं, दिल्ली में तेज बारिश के चलते कुछ इलाकों में 100 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई है, जो 2013 के बाद का सबसे बड़ा रिकॉर्ड है। माना जा रहा हैकि एक दशक में यह तीसरी बार है, जब यहां 100 मिलीमीटर या उससे अधिक बारिश दर्ज की गई हो। मौसम विभाग पहले पूर्वानुमान जता चुका है कि बुधवार को भी बारिश होगी, लेकिन मंगलवार जितनी तेज बारिश नहीं होगी। 

वहीं, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) की ताजा भविष्यवाणी के मुताबिक,  पूरी दिल्ली के अलावा गुरुग्राम, मानेसर (हरियाणा) और आसपास के इलाकों में कई जगहों पर हल्की से मध्यम तीव्रता के साथ गरज संग बारिश जारी रहेगी।

अगले तीन-चार दिनों में उत्तर भारत में हो सकती भारी बारिश

अगर अगले तीन-चार दिनों में आप जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तर प्रदेश में यात्रा की योजना बना रहे हैं तो सतर्क हो जाइए क्योंकि मौसम विभाग ने 29 जुलाई तक इन राज्यों में भारी बारिश की संभावना जताई है। विभाग के मुताबिक, उत्तर मध्य प्रदेश के ऊपर बना निम्न दबाव का क्षेत्र कमजोर हो गया है। लेकिन उससे जुड़ा चक्रवातीय सर्कुलेशन उत्तर-पश्चिम मध्य प्रदेश और आसपास के इलाकों में बना हुआ है। एक और चक्रवातीय सर्कुलेशन बंगाल की खाड़ी के उत्तर में बना हुआ है। इसके प्रभाव से बुधवार के आसपास उत्तर बंगाल की खाड़ी और आसपास निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। दोनों चक्रवातीय सर्कुलेशन के प्रभाव से बृहस्पतिवार तक उत्तरी राज्यों में भारी से बहुत भारी बारिश होने के आसार हैं। बाद में इसकी तीव्रता कम हो जाएगी।मंगलवार और बुधवार को हिमाचल प्रदेश व उत्तराखंड और मंगलवार को उत्तर-पश्चिम उत्तर प्रदेश में अत्यधिक भारी बारिश की संभावना है।

वहीं, इससे पहले सोमवार को भी मौसम विभाग का पूर्वानुमान पूरी तरह से गलत साबित हुआ। अनुमान था हल्की से मध्यम स्तर की बारिश का, यलो अलर्ट भी था, लेकिन कुछ इलाकों में बूंदाबांदी ही होकर रह गई। हालांकि मंगलवार को तेज हवा के साथ अच्छी बारिश की संभावना जताई जा रही है। आरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है। इससे गर्मी और तापमान दोनों ही कम होने की संभावना है। सोमवार को सूरज की तपिश तो जरूर हल्की रही। सूरज और बादलों के बीच लुकाछिपी भी दिन भर चली। लेकिन इससे उमस कम नहीं हुई। बूंदाबांदी करके ही बादल उड़ गए।

मौसम विभाग के मुताबिक सोमवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 33.1 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 28.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हवा में नमी का स्तर 70 से 87 फीसद रहा। जहां तक बारिश का सवाल है तो शाम साढ़े पांच बजे तक नजफगढ़ में एक मिमी, नरेला में दो मिमी, मयूर विहार में 0.5 मिमी और अन्य जगहों पर बूंदांबांदी दर्ज की गई। 

यह भी पढ़ेंः IN Pics: थोड़ी देर हुई बारिश से पानी-पानी हुई दिल्ली, सड़कें हुई लबालब तो दुकानों में घुसा पानी

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.