UP: ग्रेटर नोएडा में पशु तस्कर व ग्रामीणों के बीच फायरिंग, दोनों ओर से एक-एक की मौत

नोएडा, जेएनएन। दिल्ली से उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में ग्रामीणों और पशु तस्करों के बीच हिंसक भिड़ंत का सनसनीखेज मामला सामने आया है। इसमें ग्रामीण पक्ष के एक शख्स और एक बदमाश की मौत हो गई। पूरा मामला कोतवाली जारचा क्षेत्र के गांव खुरशैदपुरा का है। 

मिली जानकारी के मुताबिक, रविवार को भैंस चोरी करने आए बदमाशों की भनक लगते ही ग्रामीणों ने उन्हें घेर लिया। इतना ही नहीं उन्होंने एक बदमाश को अपने कब्जे में भी ले लिया। इस बीच अन्य बदमाशों ने ग्रामीणों के चंगुल से अपने साथी बदमाश को छुड़ाने की कोशिश की। इससे दोनों ओर से फायरिंग शुरू हो गई। इस दौरान कई राउंड की फायरिंग की गई। 

बताया जा रहा है कि ग्रामीणों और बदमाशों के बीच हुई फायरिंग में एक ग्रामीण रतन सिंह और एक बदमाश की जान चली गई। इस घटना की जानकारी मिलते ही इलाके में हड़कंप मच गया। सूचना पर आननफानन में पहुंची पुलिस ने हालात पर काबू पाते हुए मोर्चा संभाल लिया है और मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।फिलहाल घटना के बाद बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर एकत्र हैं, वहीं मौके की नजाकत को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस फोर्स के साथ एसएसपी भी मौजूद हैं।

यहां पर बता दें कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा, जेवर और जिले से सटे बुलंदशहर में भी पशु तस्कर सक्रिय हैं। जुलाई, 2018 में कासना कोतवाली क्षेत्र के होंडा चौक के पास पुलिस ने एक कैंटर से पशुओं के 100 बच्चों को मुक्त कराया गया था। इस दौरान पशु तस्करी से गुस्साए ग्रामीणों ने कैंटर में तोड़फोड़ की और टायरों में आग लगा दी थी। एक पशु तस्कर असलम को ग्रामीणों ने पकड़कर उसकी पिटाई भी की थी और पुलिस को सौंप दिया था। ये लोग मथुरा मंडी से बछड़े खरीद कर उनको डासना बूचड़खाना ले जा रहे थे। मौके से पशुओं के नौ बच्चे मृत अवस्था में मिले थे।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए क्लिक करें यहां

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.