गाजीपुर लैंडफिल साइट पर लगी आग 2 दिन बाद भी नहीं बुझी

गाजीपुर थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है।

साइट में लगी आग से कई किलोमीटर तक आसमान में धुआं छाया रहा जो गाजीपुर समेत गाजियाबाद व नोएडा के कई हिस्सों फैल गया। इसकी वजह से आसपास इलाकों में रहने वालों खासकर बच्चों व बुजुर्गों को काफी परेशानी हुई।

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 09:29 AM (IST) Author: JP Yadav

नई दिल्ली [शुजाउद्दीन]। राजधानी दिल्ली वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर की चपेट में है। इस बीच मंगलवार रात गाजीपुर लैंडफिल साइट पर भीषण आग लग गई, जो एक दिन गुजर जाने के बाद भी धधकती रही है। बृहस्पतिवार सुबह भी आग धधक रही है। इस दौरान 15 से ज्यादा दमकल की गाड़ियां व 10 से अधिक जेसीबी की मशीनें आग पर काबू पाने में लगी हैं, लेकिन कामयाबी नहीं मिल सकी। फिलहाल दमकल विभाग यह नहीं बता पा रहा है कि आग कब तक बुझेगी। साइट में लगी आग से कई किलोमीटर तक आसमान में धुआं छाया रहा जो गाजीपुर समेत गाजियाबाद व नोएडा के कई हिस्सों फैल गया। इसकी वजह से आसपास इलाकों में रहने वालों, खासकर बच्चों व बुजुर्गों को काफी परेशानी हुई। कूड़े की राख हवा में उड़ती रही। इस मामले में गाजीपुर थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है।

कैंडल वाला गुब्बारा गिरने से लगी आग

स्थानीय लोगों के अनुसार, मंगलवार रात करीब आठ बजे लैंडफिल पर हल्की आग लगी थी, जो साइट के कई हिस्सों में फैल गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, लैंडफिल साइट पर कैंडल वाला गुब्बारा गिरने से आग लगी और साइट पर ज्वलनशील मीथेन गैस के होने से कूड़े ने तेजी से आग पकड़ ली। दमकल और पुलिस को रात 9:56 बजे सूचना दी गई। दमकल की टीमें मौके पर पहुंची और आग बुझाने में जुट गईं।

धुएं से परेशान बहुत से लोग रिश्तेदारों के घर चले गए

आग से कोंडली, मुल्ला कॉलोनी, गाजीपुर, गाजीपुर डेयरी फार्म, मयूर विहार फेज-3, गाजीपुर मंडी में अफरातफरी मची रही। आग के धुएं से परेशान होकर बहुत से लोग रिश्तेदारों के घर चले गए। पूरी रात कोशिश करने पर भी आग पर काबू नहीं पाया जा सका। बुधवार को पूरे दिन टीमें आग बुझाने में लगी रहीं। लैंडफिल की ऊंचाई अधिक होने के कारण आग बुझा रहे दमकल कर्मियों की हालत खराब हो गई, सर्दी में भी उन्हें पसीने छूटते रहे। एक जगह आग बुझाते, तब तक दूसरी जगह लग जाती। धुएं की वजह से भी दमकल कर्मियों को आग बुझाने में काफी दिक्कत हुई। पुलिस व दमकल के वरिष्ठ अधिकारी मौके का जायजा लेते रहे।

थमी एनएच-9 पर वाहनों की रफ्तार

लैंडफिल साइट पर लगी आग के धुएं ने एनएच-9 पर वाहनों की रफ्तार थाम दी, धुएं से हाईवे पर दृश्यता काफी रही। आलम यह था कि दिन में ही वाहन चालकों को लाइट जलाकर सफर करना पड़ा। दो पहिया वाहन चालकों को सबसे ज्यादा परेशानी हुई। धुएं से दिल्ली व गाजियाबाद व नोएडा के इलाकों में भी यातायात प्रभावित हुआ।

 लैंडफिल साइट का क्षेत्रफल 70 एकड़  ऊंचाई (एक साल पहले) 65 मीटर  ऊंचाई (वर्तमान): 53 मीटर   कूड़ा: 1.40 करोड़ टन  प्रतिदिन कूड़ा आता है 2600 टन

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.