Delhi Metro News: लाल किला मेट्रो स्टेशन पर यात्रियों के लिए एंट्री बंद, जानिये- अन्य स्टेशनों का हाल

बुधवार को ल्ली मेट्रो के सात कॉरिडोर के करीब 60 स्टेशन बंद रहे।

Delhi Metro News लाल किला मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश द्वार को बंद रखा गया है जबकि इस स्टेशन से बाहर निकल सकते हैं। वहीं दिल्ली मेट्रो के अन्य सभी मेट्रो स्टेशन पर यात्री सेवाएं सामान्य हैं। ऐसा किसान के दोबारा संभावित उपद्रव के चलते किया गया है।

Publish Date:Wed, 27 Jan 2021 08:03 AM (IST) Author: JP Yadav

नई दिल्ली, एएनआइ। गणतंत्र दिवस पर किसानों के उपद्रव को देखते हुए दिल्ली में बुधवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। दिल्ली के विभिन्न इलाकों में पुलिस मुस्तैद है। वहीं, हालात को देखते हुए दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) ने भी अहम फैसला लिया है। इसके तहत लाल किला मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश द्वार को बंद रखा गया है, जबकि इस स्टेशन से बाहर निकल सकते हैं। वहीं, दिल्ली मेट्रो के अन्य सभी मेट्रो स्टेशन पर यात्री सेवाएं सामान्य हैं।  माना जा रहा है कि ऐसा किसान के दोबारा संभावित उपद्रव के चलते किया गया है। 

गौरतलब है कि इससे पहले मंगलवार को किसानों की तरफ से ट्रैक्टर रैली के नाम पर दिल्ली में उपद्रवियों की तरफ से किए गए उत्पात के चलते दिल्ली मेट्रो के सात कॉरिडोर के करीब 60 स्टेशन बंद रहे। हालांकि, रात आठ बजे फिर से सभी मेट्रो स्टेशन पर परिचालन समान्य कर दिया गया, जो स्टेशन बंद रहे उसमें यलो लाइन के 11 स्टेशन व ग्रीन लाइन के सभी 22 स्टेशन समेत दिल्ली के 60 स्टेशन बंद रहे। इस बीच यात्रियों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) अपने ट्विटर हैंडल पर लगातार जानकारी देता रहा।

इन कॉरिडोर पर बंद हैं स्टेशन

वायलेट लाइन

आइटीओ, दिल्ली गेट, लाल किला मेट्रो स्टेशन बंद

ब्लू लाइन : इंद्रप्रस्थ, द्वारका 21 से जनकपुरी पश्चिम तक 14 मेट्रो स्टेशन

यलो लाइन

समयुपर बादली, रोहिणी सेक्टर-18, हैदरपुर बादली मोड़, जहांगीरपुरी, आदर्श नगर, आजादपुर, मॉडल टाउन, जीटीबी नगर, विश्वविद्यालय, विधानसभा और सिविल लाइंस मेट्रो स्टेशन बंद।

ग्रीन लाइन

सभी 22 मेट्रो स्टेशन बंदग्रे लाइन : द्वारका से नजफगढ़ तक तीन स्टेशन बंदरेड लाइन : दिलशाद गार्डन स्टेशन बंद।

पिंक लाइन : मायापुरी, दिल्ली कैंट, साउथ कैंपस, जनकपुरी पश्चिम स्टेशन बंद।

गौरतलब है कि मंगलवार को किसानों के हिंसक प्रदर्शन के बाद शांति व्यवस्था को बहाल करने के लिए दिल्ली में अर्धसैनिक बलों की 15 कंपनियां तैनात करने का निर्णय लिया गया है। बता दें कि हंगामे के मद्देनजर फिलहाल गृह मंत्रालय ने दिल्ली में अर्धसैनिक बलों की 15 कंपनियों को तैनात करने का आदेश जारी किया है। इसमें 10 कंपनी सीआरपीएफ जबकि पांच कंपनी सीआइएसएफ व अन्य बलों के जवानों की तैनाती की गई है। इसमें करीब 15 सौ जवान राजधानी में शांति व कानून व्यवस्था बनाएंगे।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.