Eid ul Fitr 2021: इस बार किस दिन मनाया जाएगा ईद, यहां जानें पूरी डिटेल

ईद का त्योहार भारत में काफी धूमधाम से बनाया जाता है।

ईद का त्योहार भारत में काफी धूमधाम से बनाया जाता है। इस दौरान लोग ईद का चांद देखते हैं फिर त्योहार को मनाते हैं। सबसे ज्यादा जरूरी इसमें चांद का दिखना होता है।बता दें कि बुधवार को अगर चांद दिखता है तो फिर इस त्योहार को गुरुवार को मनाया जाएगा।

Prateek KumarTue, 11 May 2021 06:20 PM (IST)

नई दिल्ली, नेमिष हेमंत। ईद का त्योहार भारत में काफी धूमधाम से बनाया जाता है। इस दौरान लोग ईद का चांद देखते हैं फिर त्योहार को मनाते हैं। सबसे ज्यादा जरूरी इसमें चांद का दिखना होता है। आपको बता दें कि बुधवार को अगर चांद दिखता है तो फिर इस त्योहार को गुरुवार को मनाया जाएगा। वहीं अगर गुरुवार को चांद अगर देखा जाता है तो यह त्योहार शुक्रवार को मनाया जाएगा। ईद उल फितर मुस्लिमों का सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है। इसे रमजान के पाक माह में मनाया जाता है। बता दें कि इस त्योहार में लोग रोजा रखते हैं।

गुरुवार या शुक्रवार को मनेगी

इधर, धर्मगुरुओं ने लोगों से ईद-उल-फितर की नमाज घर में ही अदा करने की अपील की है। जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी और चांदनी चौक स्थित फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मुफ्ती मुकर्रम अहमद ने वीडियो संदेश जारी कर यह संदेश दिया है। ईद का त्योहार बृहस्पतिवार या शुक्रवार को पड़ सकता है जो चांद नज़र आने पर निर्भर करता है।

कोरोना के कारण प्रलय जैसा मंजर

बुखारी ने कहा है कि इस वक्त कोरोना संक्रमण वबा (महामारी) की शक्ल में पूरे मुल्क में तेजी से फैल चुका है और यह बड़ी संख्या में लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। यह ऐसा कयामत (प्रलय) का मंजर है जो हमने और आपने अपनी जिंदगी में कभी नहीं देखा। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों के मुताबिक, संक्रमण की तीसरी लहर का भी अंदेशा है। लिहाजा हालात की नजाकत को देखते हुए ईद की नमाज अपने घरों में ही पढ़ी जाए तो बेहतर है। उन्होंने कहा कि इस तरह के हालात में शरीयत (इस्लामी कानून) इसकी इजाजत देती है।

घर से ही करें इबादत

फतेहपुरी मस्जिद के शाही इमाम मुफ्ती मुकर्रम ने अलग वीडियो में कहा कि संक्रमण की दूसरी लहर चल रही और रोज लाखों मामले सामने आ रहे हैं। हजारों लोगों की मौत हो रही है। हालात के मुताबिक, बहुत ज्यादा एहतियात करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पिछले साल भी हमने घरों में ही ईद की नमाज अदा की थी। बीमारी का डर अब भी मौजूद है तथा संक्रमण बहुत ज्यादा है। लिहाजा सभी लोगों से अपील करूंगा कि ईद वाले दिन भी मस्जिद की तरफ न आएं बल्कि घरों में ही इबादत करें।

गरीबों को दिल खोलकर करें दान

मुफ्ती मुकर्रम ने लोगों से सदका-ए-फित्र (दान) अदा करने की अपील करते हुए समुदाय के लोगों से गरीबों खासकर कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की ‘दिल खोलकर’ मदद करने की गुजारिश की।

Eid ul Fitr 2021 : कब मनेगी ईद, यहां जानें दिल्ली-एनसीआर में चांद दिखने का समय

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.