भलस्वा इलाके में नशे में धुत पिता ने अपने तीन माह के बेटे को दीवार पर पटककर कर दी हत्या

भलस्वा डेरी इलाके में शराब के नशे में धुत शख्स ने दीवार से टकरा कर अपने ही तीन माह के बेटे की हत्या कर दी। घटना शुक्रवार की रात है। पुलिस ने आरोपित को मौके से गिरफ्तार कर लिया है।

Vinay Kumar TiwariPublish:Tue, 07 Dec 2021 01:19 PM (IST) Updated:Tue, 07 Dec 2021 01:19 PM (IST)
भलस्वा इलाके में नशे में धुत पिता ने अपने तीन माह के बेटे को दीवार पर पटककर कर दी हत्या
भलस्वा इलाके में नशे में धुत पिता ने अपने तीन माह के बेटे को दीवार पर पटककर कर दी हत्या

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। भलस्वा डेरी इलाके में शराब के नशे में धुत शख्स ने दीवार से टकरा कर अपने ही तीन माह के बेटे की हत्या कर दी। घटना शुक्रवार की रात है। पुलिस ने आरोपित को मौके से गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ भलस्वा डेरी थाने में हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार आरोपित 26 वर्षीय रवि राय अपनी पत्नी व तीन माह के बेटे के साथ मुकुंदपुर इलाके की समता विहार कालोनी स्थित मंगल बाजर रोड पर किराये के कमरे में रहता था। परिवार एक माह पूर्व ही रहने के लिए आया था। रवि कुछ नहीं करता था और दिन भर कमरे में रहा करता था। जबकि उसकी पत्नी आजादपुर मंडी में छोटा मोटा काम करती है।

पड़ोसियों के अनुसार दोनों पति पत्नी अक्सर आपस में झगड़ते रहते थे। शुक्रवार की रात करीब सवा दस बजे दोनों के झगड़ा शुरू हो गया। इसी दौरान आरोपित रवि ने सो रहे तीन माह के बेटे का पैर पकड़ कर बेड से उठा लिया और दीवार से टकरा दिया। जिससे बच्चे के शरीर की हड्डियां टूट गई और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। बच्चे की मां जब शोर मचाते हुए कमरे से बाहर निकली तो आसपास के लोगोें को वारदात की जानकारी मिली। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

बाहरी उत्तरी जिले के डीसीपी बृजेंद्र सिंह यादव के अनुसार शुक्रवार की रात साढ़े दस बजे पुलिस को सूचना मिली कि मंगल बाजार रोड पर एक व्यक्ति ने अपने बच्चे को मार दिया है। ऐसे में पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां नशे की हालत में आरोपित रवि राय मिला। जबकि बच्चे को बाबू जगजीवन राम अस्पताल ले जाया गया था, जहां उसे डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जांच में पता चला कि बच्चे की देखभाल को लेकर दोनों के बीच विवाद होते रहता था। चूंकि आरोपित की पत्नी मंडी में काम करने जाती थी तो वह चाहती थी कि पति बच्चे की दिन में देखभाल करें। लेकिन आरोपित इसके लिए तैयार नहीं था।