ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी करते हुए एक शख्स को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

दो ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद, 1800 रुपये में बेच रहा था एक।

डीसीपी एंटो अल्फ़ोंस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपित का नाम गुरविंदर सिंह है। वह न्यू सीमापुरी का रहने वाला है और पेशे से बिजली मैकेनिक है। ग़ाज़ियाबाद से इसने 450 रुपये प्रति ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की दर से 6 ऑक्सीज़न कंसंट्रेटर खरीदा था।

Prateek KumarWed, 05 May 2021 06:10 AM (IST)

नई दिल्ली [राकेश कुमार सिंह]। उत्तरी जिला के लाहौरी गेट थाना पुलिस ने पोर्टेबल ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने के आरोप में एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। उसके पास से दो ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किया गया है। पुलिस ने नकली ग्राहक बनकर इससे सौदा करने के बाद धर दबोचा।

डीसीपी एंटो अल्फ़ोंस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए आरोपित का नाम गुरविंदर सिंह है। वह न्यू सीमापुरी का रहने वाला है और पेशे से बिजली मैकेनिक है। ग़ाज़ियाबाद से इसने 450 रुपये प्रति ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की दर से 6 ऑक्सीज़न कंसंट्रेटर खरीदा था। जिसमें 4 को वह 1800 रुपये की दर से पहले ही बेच दिया था।

राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच लोगों की मजबूरी का फायदा उठा बड़ी संख्या में लोग आपदा को अवसर ले तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं। जीवन रक्षक दवाई, ऑक्सीज़न सिलेंडर, कंसंट्रेटर आदि चिकित्सा उपकरणों का लोग धड़ल्ले से लोग कालाबाज़ारी कर मोटा मुनाफा कमाने में जुट गए हैं। ऐसे लोगों पर पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव के निर्देश पर दिल्ली पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

पुलिस मुख्यालय के कोविड सेल को शिकायत मिली थी कि कुछ लोग चंदनी चौक में चिकित्सा उपकरण की कालाबाज़ारी कर रहे हैं। मुख्यालय से उक्त शिकायत को उत्तरी जिला पुलिस को ट्रांसफर कर दिया गया। शिकायत पर सब इंस्पेक्टर संदीप माथुर मौके पर पहुंचे। उन्होंने कालर शैलेश गुप्ता से मिलकर पूछताछ की उन्होंने बताया कि वह कोरोना संक्रमित है। आरोपित के बारे में कुछ जानकारी देने के बाद उसने बताया कि वह अत्यधिक बात करने की स्थिति में नहीं है।

एससीपी उमा शंकर और थानाध्यक्ष जरनैल सिंह के नेतृत्व में संदीप माथुर, दीपक, समुंदर, सिपाही करण, और दीपक की टीम ने जांच शुरू कर दी। पुलिस टीम ने नकली ग्राहक बनकर आरोपित से मोबाइल पर संपर्क किया और दो ऑक्सीज़न कंसंट्रेटर खरीदने का सौदा किया। 3600 रुपये में दो ऑक्सीज़न कंसंट्रेटर खरीदने की बात हुई। इसके बाद उसे एसपीएम मार्ग पर डिलीवरी देने को कहा गया। वहां आने के बाद उसे दबोच लिया गया। उसकी पहचान गुरविंदर के रूप में हुई। डाॅक्टर की पर्ची दिखाने की बात कहने पर वह नहीं दिखा पाया, जिसके बाद उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.