Delhi Lockdown: लापरवाहों के खिलाफ एक्शन और जरूरतमंदों की सेवा कर रही दिल्ली पुलिस

दिल्ली पुलिस लापरवाहों के खिलाफ मामला दर्ज कर रही है वहीं जरूरतमंदों की सेवा कर पुण्य भी कमा रही है।

कोरोना संक्रमण के बढ़ रहे मामलों के बीच दिल्ली पुलिस एक ओर जहां लापरवाहों के खिलाफ मामला दर्ज कर रही है वहीं जरूरतमंदों की सेवा कर पुण्य भी कमा रही है। इंटरनेट मीडिया पर दिल्ली पुलिस द्वारा जरूरतमंदों की मदद से जुड़े कार्यों की जमकर तारीफ हो रही है।

Vinay Kumar TiwariMon, 19 Apr 2021 06:36 PM (IST)

नई दिल्ली, [गौतम कुमार मिश्रा]। Delhi Lockdown: कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ रहे मामलों के बीच दिल्ली पुलिस एक ओर जहां लापरवाहों के खिलाफ मामला दर्ज कर रही है वहीं जरूरतमंदों की सेवा कर पुण्य भी कमा रही है। इंटरनेट मीडियो पर दिल्ली पुलिस द्वारा जरूरतमंदों की मदद से जुड़े कार्यों की जमकर तारीफ हो रही है। लोगों को उम्मीद है कि जिस तरह से कोरोना की पहली लहर व लाकडाउन के दौरान पुलिस ने कार्य किए थे, उसी तरह एक बार फिर पुलिस का मानवीय संवेदना से ओतप्रोत पक्ष नजर आएगा। बहरहाल पुलिस अपने कार्य में जुटी है।

जाफरपुर इलाके में साप्ताहांत कर्फ्यू के दौरान पुलिस जब यह सुनिश्चित कर रही थी कि कोई शख्स बेवजह बाहर नहीं निकले तभी ढांसा गांव में एक सड़क किनारे एक बुजुर्ग शख्स जमीन पर बेसुध पड़ा नजर आया। पुलिसकर्मी जब उस शख्स के पास पहुंची तो पाया कि वे कुछ बताने की स्थिति में नहीं है। पुलिसकर्मी ने बिना समय गंवाए उस शख्स को अस्पताल पहुंचाया। चिकित्सकों ने उन्हें देखा और जब उनकी हालत स्थिर हुई तब पुलिस ने उन्हें घर पहुंचाया। न सिर्फ गांव में बल्कि जिसे भी इस बात की जानकारी मिली उसने पुलिस की जमकर तारीफ की।

वहीं कोरोना संक्रमित एक शख्स को तत्काल प्लाज्मा की जरूरत थी। रोहिणी निवासी एक युवक ने प्लाज्मा देने का फैसला किया। लेकिनि एक समस्या थी कि आखिर कर्फ्यू में वे वैशाली स्थित अस्पताल में मरीज के पास कैसे जाएं। वाहन का इंतजाम कैसे हो। जब यह बात छावला के एसीपी मनोज कुमार मीणा को पता चली तो उन्होंने तत्काल रोहिणी में रहने वाले युवक के पास वाहन भेजा। वहीं कोरोना संक्रमित एक मरीज की मौत के बाद शव को अंत्येष्ठि स्थल पर पहुंचाने का भी दायित्व पुलिस संभाल रही है। एक अन्य मामले में पुलिस को सूचना मिली कि एक मोर की मौत हो चुकी है। पुलिस ने पूरे सम्मान के साथ मोर का अंतिम संस्कार किया।

दूसरी ओर पुलिस ऐसे लोगों के साथ सख्ती के साथ पेश आ रही है जो कोरोना से बचाव के लिए न तो शारीरिक दूरी और न ही मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं। खासकर ऐसी जगहों पर जहां भीड़भाड़ जुटने की संभावना होती है, वहां पुलिस की पैनी नजर है। इन जगहों पर नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस तुरंत कार्रवाई कर रही है। ऐसे मामलों में पुलिस चालान व मामला दर्ज कर रही है।

अधिकारी का बयान

पुलिस अपने कर्तव्यों को बखूबी निभा रही है। जरूरतमंदों की मदद करना पुलिस का कर्तव्य है। साथ ही जो लोग कानून की अवहेलना कर रहे हैं, उनके खिलाफ हमारी कार्रवाई जारी है। नियमाें का उल्लंघन पाए जाने पर हमलोगों ने 21 मामले दर्ज किए हैं। इसके अलावा 50 लोगों के खिलाफ चालान किया गया है।

संतोष कुमार मीणा, उपायुक्त, द्वारका जिला पुलिस

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.