दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

अरविंद केजरीवाल सरकार ने दिल्ली नगर निगम के लिए जारी किए 1,051 करोड़ रुपये

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया जानकारी देते हुए

दिल्ली सरकार ने शनिवार को नगर निगमों के लिए 1051 करोड़ रुपए की राशि जारी की। ईस्ट MCD को 366 करोड़ रुपए उत्तरी MCD को करीब 432 करोड़ रुपए और दक्षिण MCD को करीब 251 करोड़ रुपए दिए हैं।

Mangal YadavSat, 15 May 2021 03:36 PM (IST)

नई दिल्ली, जेएनएन। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को बताया कि दिल्ली नगर निगम इस महामारी के दौरान भी भ्रष्टाचार और अव्यवस्था के कारण अपने कर्मचारियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को महीनों से वेतन नहीं दे रहा है। जबकि दिल्ली सरकार ने नगर निगम के फ्रंट लाइन वर्करों और कर्मचारियों के वेतन के लिए 1051करोड़ रुपये जारी किए है।

डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में कोरोना महामारी के बीच डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ दिन रात मेहनत कर अपनी जान की बाजी लगाकर लोगों को बचा रहें हैं। ऐसे में मेडिकल कर्मियों की तनख्वाह तक नहीं मिल पाना नगर निगम की बड़ी विफलता दर्शाता है। इसीलिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने निगम कर्मचारियों के वेतन के लिए 1051 करोड़ रुपये जारी किए है।

इसमें पूर्वी दिल्ली नगर निगम के लिए 366.9 करोड़, उत्तरी दिल्ली नगर निगम के लिए 432.8 करोड़ और दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के लिए 251.6 करोड़ रुपये जारी किया गया है।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि संकट के समय कर्मचारियों का वेतन नहीं रुकना चाहिए। उन्होंने कहा कि एमसीडी ये सुनिश्चित करे कि इस राशि का उपयोग बिना किसी हेराफेरी किए केवल कर्मचारियों को तनख्वाह देने के लिए किया जाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल का कहना है कि अभी महामारी का समय है लेकिन हमारे पास संसाधनों की कितनी भी कमी क्यों न हो लेकिन कर्मचारियों का वेतन नहीं रुकना चाहिए विशेषकर कोरोना मैनेजमेंट में लगे कर्मचारियों का।

यह भी पढ़ेंः आंदोलन में फिर से जान फूंकना चाहता है संयुक्त किसान मोर्चा, सरकार के खिलाफ  किया बड़ा एलान

 

निगमों के दबाव में दिल्ली सरकार को जारी करना पड़ा फंड: जय प्रकाश

वहीं, उत्तरी दिल्ली के महापौर जय प्रकाश ने कहा कि दिल्ली सरकार ने दिल्ली की तीनों निगमों का 1050 करोड़ रुपये जारी कर दिया है। जो कि निगमों के दबाव में किया गया है। क्योंकि वह खुद इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से लेकर उपराज्यपाल को पत्र लिखकर फंड जारी करने मांग कर रहे थे। उपराज्यपाल के हस्तक्षेप के बाद सत्येंद्र जैन के दफ्तर में जो फाइल पड़ी हुई थी उसे पास किया गया।

ये भी पढ़ेंः दिल्ली में क्या एक सप्ताह के लिए फिर से बढ़ाया जाना चाहिए लॉकडाउन, जानें व्यापारियों की राय

महापौर ने बताया निगमों के दबाव के परिणाम स्वरूप ही दिल्ली सरकार ने तीनों निगमों को फंड जारी किया है। जिसमें 432 करोड़ रूपये उत्तरी निगम को पूर्वी निगम को 367 और दक्षिणी निगम को 251 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं।

इसे भी पढ़ेंः मोबाइल नंबर ब्लाक किया तो प्रेमी के घर की छत पर चढ़ी युवती, किया हाई वोल्टेज ड्रामा

यह भी पढ़ेंः कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लगने के बाद भी क्या मास्क है जरूरी?, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.