Delhi Education : शिक्षकों को स्कूल बुलाए जाने पर जीएसटीए ने शिक्षा निदेशक को लिखा पत्र

शिक्षकों की स्कूल बुलाए जाने की लगातार शिकायत के बाद शिक्षा निदेशक को पत्र लिखा गया है। (फाइल फोटो)

कोरोना से शिक्षकों की मृत्यु का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में शिक्षकों से सूचना व लगातार शिकायतें मिल रही हैं कि हर जिले के उप शिक्षा निदेशक प्रधानाचार्य को मौखिक आदेश देकर सभी स्टॉफ को कहीं रोजाना स्कूल बुला रहे हैं।

Publish Date:Tue, 24 Nov 2020 06:34 PM (IST) Author: Vinay Tiwari

जागरण संवाददाता, नई दिल्ली। कोरोना महामारी के चलते दिल्ली के सभी स्कूल छात्रों के लिए तो बंद हैं लेकिन शिक्षकों को रोजाना स्कूलों में हाजिरी लगानी पड़ रही है। शिक्षकों की स्कूल बुलाए जाने की लगातार शिकायते सुनने के बाद राजकीय विद्यालय शिक्षक संघ (जीएसटीए) ने शिक्षा निदेशक उदित प्रकाश राय को पत्र लिखा है। राजकीय विद्यालय शिक्षक संघ के महासचिव अजय वीर यादव के मुताबिक दिल्ली में संक्रमण फैलने से संक्रमित लोगो की संख्या अन्य शहरों की तुलना में सर्वाधिक है।

कोरोना से शिक्षकों की मृत्यु का आंकड़ा भी दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में उन्हें अलग-अलग शिक्षकों से सूचना व लगातार शिकायतें मिल रही हैं कि हर जिले के उप शिक्षा निदेशक, प्रधानाचार्य को मौखिक आदेश देकर सभी स्टॉफ को कहीं रोजाना स्कूल बुला रहे हैं तो कहीं रोस्टर बनाकर सप्ताह में दो से तीन दिन बुला रहे हैं। उनके मुताबिक ज्यादातर शिक्षक सार्वजनिक वाहनों पर भई निर्भर हैं तो ऐसे में स्कूल आने-जाने से शिक्षकों में संक्रमण का खतरा और बढ़ जाएगा।

अपने पत्र में उन्होेंने लिखा कि शिक्षा विभाग द्वारा जारी वीडियों व शिक्षकों के स्वयं के स्तर पर अॉनलाइन शिक्षण कार्य सुचारू रूप से चल रहा है व आगे भी चलता रहना संभव है। स्कूलों में भी ऑनलाइन कक्षाओं के लिए कोई विशेष प्रबंध नहीं हैं। इंटरनेट की वजह से ऑनलाइन शिक्षण कार्य में बाधा आती है। एक प्रकार से स्कूलों में बिना छात्रों के शिक्षकों की उपस्थिति औचित्यहीन है।

उन्होंने पत्र के माध्यम से निदेशक से अनुरोध किया कि जब तक दिल्ली में कोरोना संक्रमण की स्थिति सामान्य न हो तब तक घर से ही छात्रों की जरूरतों को समझते हुए ऑनलाइन शिक्षण कार्य करने के लिए दिल्ली के सभी विद्यालयों के लिए स्पष्ट आदेश जारी किए जाएं। जिससे उप-शिक्षा निदेशकों की स्थिति भी स्पष्ट हो सके।  

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.